जी20 देशों के उद्योग बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में निवेश अवसरों की तलाश में

  • जी20 देशों के उद्योग बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में निवेश अवसरों की तलाश में
You Are HereInternational
Thursday, February 20, 2014-6:45 PM

सिडनी: जी20 देशों के उद्योगपतियों ने भारत सहित समूह के विभिन्न देशों में बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में वित्तपोषण के अवसरों की जानकारी जुटाने का फैसला किया जिसमें एक अनुमान के अनुसार 2030 तक 57,000 अरब डालर की जरूरत होगी। जी20 देशों के उद्योगपतियों के समूह - बी20 बुनियादी ढांचा एवं निवेश कार्यबल - ने कहा कि 2014 में यह जी20 को सिफारिश करने पर ध्यान केंद्रित करेगा कि विश्व भर में बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के लिए पूंजी का प्रत्यक्ष प्रवाह और बेहतर क्षमता उपलब्ध कराई जा सके।

जी20 भारत सहित दुनिया के धनी और विकासशील देशों का समूह है। बी20 ने कहा ‘‘अनुमान है कि 2030 तक वैश्विक स्तर पर बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के वित्तपोषण के लिए कम से कम 57,000 अरब डालर की जरूरत होगी।’’ बी20 अंतरराष्ट्रीय उद्योग समुदाय की ओर से जी20 सरकारों के साथ काम करता है। 2014 में बी20 विकासशील कार्रवाई योग्य सिफारिशों पर ध्यान केंद्रित करेगा जिससे कि वैश्विक आर्थिक वृद्धि होगी और रोजगार के मौके पैदा होंगे।

वैश्विक स्तर पर बुनियादी ढांचा निवेश कारोबार में सालाना 1,000 अरब डालर की कमी रहने का अनुमान है जिससे आर्थिक वृद्धि में हर साल 3,000 अरब डालर का नुकसान होगा। बी20 बुनियादी ढांचा एवं निवेश कार्यबल के संयोजक अध्यक्ष और टेल्स्ट्रा के मुख्य कार्यकारी डेविड टोडी ने कहा ‘‘अच्छी तरह चयनित, खरीद वाली और परिचालित बुनियादी ढांचा परियोजनायें आर्थिक वृद्धि और रोजगार में बड़ी भूमिका अदा करती है लेकिन बुनियादी ढांचा की मांग और संभावित परियोजनाओं के बीच का अंतर महत्वपूर्ण है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You