रस का यूक्रेन में सेना भेजना भारी गलती होगी: अमेरिका

  • रस का यूक्रेन में सेना भेजना भारी गलती होगी: अमेरिका
You Are HereInternational
Monday, February 24, 2014-12:43 AM

वाशिंगटन: अमेरिका ने कहा है कि अगर रस यूक्रेन में सैन्य बल भेजता है तो यह उसकी भारी भूल होगी और यूक्रेन का विभाजन न तो रस और न.न ही यूरोप अथवा अमेरिका के हित में है। राष्ट्रपति बराक ओबामा की राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सुसैन राइस ने आज प्रेस से मिलिए कार्यक्रम में यूक्रेन के ताजा घटनाक्रम के बीच पूछे गये सवालों पर यह बात कही। पत्रकारों ने उनसे पूछा था कि वर्तमान स्थिति को देखते हुये रस हिंसाग्रस्त देश यूक्रेन में अपनी सेना भेजकर अपनी पंसद की सरकार बनवाता है तो क्या स्थिति निर्मित होगी।

 सुश्री राइस ने कहा कि रस का यह कदम घातक होगा और यह तीनों में से किसी के हित में नहीं होगा। यूक्रेन में हिंसा कोई नहीं चाहेगा। उन्होंने यह भी कहा कि ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक रप से जुडे रस और यूरोप से जुडने की ख्वाहिश पाले आधुनिक यूक्रेन के लोगों के बीच किसी तरह का आंतरिक विरोधाभास नही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You