Subscribe Now!

मोदी की टिप्पणी पर चीन ने कहा हमने कोई युद्ध नहीं छेड़ा

  • मोदी की टिप्पणी पर चीन ने कहा हमने कोई युद्ध नहीं छेड़ा
You Are HereInternational
Monday, February 24, 2014-6:20 PM

बीजिंग: चीन ने आज कहा कि उसने दूसरे देश की एक भी इंच जमीन पर कब्जा करने के लिए कभी कोई युद्ध नहीं छेड़ा है। चीन की यह टिप्पणी भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी के उस बयान पर आया है कि जिसके तहत उन्होंने इस कम्युनिस्ट देश की ‘विस्तारवादी सोच’ को लेकर उसकी आलोचना की थी।

चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने मोदी की टिप्पणी पर सवालों का जवाब देते हुए संवाददाताओं से कहा, ‘‘आपने चीन द्वारा विस्तारवादी नीति अपनाने का जिक्र किया है। मेरा मानना है कि आप सभी देख सकते हैं कि चीन ने दूसरे देश की एक भी इंच जमीन पर कब्जा करने के लिए कभी कोई युद्ध नहीं छेड़ा है।’’

उन्होंने कहा कि हम हमेशा कहते रहे हैं कि हम शांतिपूर्ण विकास पथ के जरिए वास्तविक कार्रवाई करते हैं और हम अच्छा पड़ोसी होने तथा सहयोगी संबंध के प्रति प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने 1962 के बाद चीन-भारत सीमा पर कोई बड़ा संघर्ष नहीं होने का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘बरसों से सीमावर्ती इलाके में कोई सशस्त्र संघर्ष नहीं हुआ है। इसलिए इस बारे में पुख्ता सबूत है कि वहां शांति बरकरार रखने में हम सक्षम हैं। यह द्विपक्षीय संबंध को आगे बढ़ाने के लिए बहुत अच्छी चीज है।’’

हुआ ने कहा, ‘‘यह न सिर्फ दो लोगों के लिए अच्छा है बल्कि समूचे क्षेत्र के लिए अच्छा है। हम अपने भारतीय समकक्ष के साथ काम करने की उम्मीद करते हैं।’’ मोदी ने शनिवार को अरूणाचल प्रदेश के पासीघाट में एक रैली में कहा था कि चीन को अपनी ‘विस्तारवादी सोच’ रोकनी चाहिए। हुआ ने मोदी की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा, ‘‘सीमा के पूर्वी सेक्टर पर हमारा रूख स्पष्ट है। हम अपने पड़ोसी देशों के साथ अच्छा पड़ोसी और मैत्री संबंध विकसित करना चाहते हैं।’’ साथ ही हम वार्ता एवं परामर्श के जरिए प्रासंगिक विवादों और मतभेदों का हल करना चाहते हैं।

गौरतलब है कि चीन अरूणाचल प्रदेश को तिब्बत का दक्षिणी हिस्सा होने का दावा करता है और यह दोनों देशों के बीच 4,000 किलोमीटर लंबी वास्तविक नियंत्रण रेखा पर विवाद का हिस्सा है। हुआ ने कहा कि फिलहाल चीन और भारत द्विपक्षीय संबंधों में अच्छी गति बनाए हुए हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You