‘नर संहार’ मामले में यूक्रेन के राष्ट्रपति यानुकोविच के खिलाफ वारंट जारी

  • ‘नर संहार’ मामले में यूक्रेन के राष्ट्रपति यानुकोविच के खिलाफ वारंट जारी
You Are HereInternational
Monday, February 24, 2014-8:51 PM

कीव: यूक्रेन ने सत्ता से हटाए गए राष्ट्रपति विक्टर यानुकोविच के खिलाफ ‘‘नर संहार’’ के मामले में आज गिरफ्तारी वारंट जारी किया है और पश्चिमी देशों से अपील की है कि देश की अर्थव्यवस्था को ध्वस्त होने से बचाने के लिए 35 अरब डॉलर की सहायता करें। पूर्व सोवियत राष्ट्र में संसद द्वारा मान्यता प्राप्त पश्चिमी देशों की ओर झुकाव रखने वाली टीम ने यह नाटकीय घोषणाएं ऐसे वक्त में की हैं जब यूरोपीय संघ के शीर्ष राजनयिक कीव पहुंचे हैं। तख्ता पलट से पहले तक यूक्रेन का झुकाव रूस की ओर था लेकिन इन घटनाओं ने मास्को के प्रति नरम रूख रखने वाले नेता को भागने पर मजबूर कर दिया है।

यानुकोचिव ने क्रेमलिन में अपने पुराने मास्टर के साथ करीबी संबंध कायम रखने के लिए यूरोपीय संघ के साथ हुए एक ऐतिहासिक समझौते को तीन महीने पहले रद्द करने की घोषणा की थी। इसके बाद से शुरू हुआ विवाद पिछले सप्ताह कीव में हिंसा में बदल गया जिसने 100 से ज्यादा लोगों की जान ले ली। यूक्रेन में फेडरल पुलिस के नए अंतरिम प्रमुख ने कहा कि मौतों के लिए वह यानुकोविच और उनके सुरक्षाकर्मियों को प्रत्यक्ष रूप से जिम्मेदार ठहराते हैं।

कार्यवाहक गृहमंत्री अर्सेन अवाकोव ने एक बयान में कहा, ‘‘शांतिपूर्ण नागरिकों की हत्या के मामले में नरसंहार का मुकदमा शुरू किया गया है। यानुकोविच और अन्य कई अधिकारियों को वांछित सूची में शामिल किया गया है।’’ अवाकोव ने कहा कि यानुकोविच ने पूर्वी शहर दोनोत्स्क के रास्ते शनिवार को देश से बाहर भागने का प्रयास किया था। लेकिन नाकामयाब रहने पर वह सुरक्षाकर्मियों के एक दल और हथियारों के जखीरे के साथ क्रीमिया में शरण लिए हुए है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You