देवयानी राजनयिक छूट पाने की हकदार थी: वकील

  • देवयानी राजनयिक छूट पाने की हकदार थी: वकील
You Are HereInternational
Monday, February 24, 2014-10:32 PM

न्यूयाक: भारतीय राजनयिक देवयानी खोबरागड़े वीजा फर्जीवाड़ा के मामले में पिछले साल अपनी गिरफ्तारी के वक्त संयुक्त राष्ट्र की ‘विशेष सलाहकार’ का दर्जा रखने को लेकर अभियोजन से राजनयिक छूट पाने की हकदार थी। संयुक्त राष्ट्र के एक पत्र में यह कहा गया है। कानूनी मामलों पर संयुक्त राष्ट्र सहायक महासचिव स्टीफन मैथीज के पत्र को देवयानी के वकील डेनियल आश्र्चक ने एक अमेरिकी अदालत को सौंपा है।

उन्होंने यह पत्र अदालत को सौंपा है ताकि उनका यह दावा मजबूत हो सके कि देवयानी को उस वक्त राजनयिक छूट प्राप्त थी जब कथित वीजा फर्जीवाड़ा को लेकर उन्हें पिछले साल दिसंबर में गिरफ्तार किया गया था। आश्र्चक ने कहा कि 39 वर्षीय देवयानी को पिछले साल 26 अगस्त से 31 दिसंबर तक संयुक्त राष्ट्र की ‘विशेष सलाहकार’ का दर्जा हासिल था।

उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र के लिए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की यात्रा से पहले देवयानी को पिछले साल अगस्त में सलाहकार नियुक्त किया गया था। उन्होंने कहा कि देवयानी को विशेष सलाहकार का दर्जा हासिल था जिससे उन्हें वीजा फर्जीवाड़ा के आरोप में 12 दिसंबर को गिरफ्तारी और अभियोजन से छूट प्राप्त थी। आश्र्चक ने इस पत्र को साक्ष्य के रूप में अदालत में पेश किया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You