भारतीय मछुआरों के साथ मानवीय व्यवहार करे श्रीलंका: सिंह

  • भारतीय मछुआरों के साथ मानवीय व्यवहार करे श्रीलंका: सिंह
You Are HereInternational
Tuesday, March 04, 2014-6:59 PM

नेपीडा: श्रीलंका के हाथों 32 और भारतीय मछुआरों की गिरफ्तारी की पृष्ठभूमि में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पड़ोसी मुल्क के राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे के सामने यह मुद्दा मंगलवार को उठाते हुए उनसे इस मामले में मानवीय रुख अपनाने का अनुरोध किया। बंगाल की खाड़ी बहुक्षेत्रीय तकनीकी एवं आर्थिक सहयोग (बिम्स्टेक) शिखर वार्ता के दौरान थोड़ी देर के अवकाश के दौरान दोनों नेताओं के बीच मुलाकात हुई, जिसमें उन्होंने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में अमेरिका द्वारा लाए जा रहे प्रस्ताव पर भी बातचीत की। इस प्रस्ताव का विषय सदस्य देशों के बीच सोमवार शाम बांटा गया है।

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरुद्दीन ने बैठक के बाद दी गई जानकारी में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री ने कहा कि यह (मछुआरों का मुद्दा) जीवनयापन का मुद्दा है और इसे श्रीलंका द्वारा मानवीय लिहाज से लिया जाना चाहिए।’’ प्रधानमंत्री ने सोमवार को श्रीलंकाई नौसेना द्वारा 32 भारतीय मछुआरों को गिरफ्तार किए जाने के बाद यह चिंता जताई है। श्रीलंकाई नौसेना ने कथित रूप से अपनी जल सीमा में घुसपैठ के बहाने से मछुआरों को गिरफ्तार कर लिया और उनकी आठ नौकाएं जब्त कर ली।

यह गिरफ्तारी 13 मार्च को दोनों देशों के मछुआरों की कोलंबो में होने जा रही दूसरे दौर की वार्ता से ऐन पहले हुई है। कोलंबो वार्ता में दोनों देशों के बीच स्थित पाल्क की खाड़ी के पानी पर अधिकार को लेकर वार्ता होगी। मनमोहन सिंह और राजपक्षे बिम्स्टेक की तीसरी शिखर वार्ता में हिस्सा लेने के लिए म्यांमार की राजधानी पहुंचे हुए हैं। भारत, म्यांमार और श्रीलंका के अलावा इस समूह में नेपाल, भूटान, बांग्लादेश और थाइलैंड भी शामिल है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You