तालिबान की धमकी से डरे मुशर्रफ के वकील!

  • तालिबान की धमकी से डरे मुशर्रफ के वकील!
You Are HereInternational
Thursday, March 06, 2014-5:37 AM

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक परवेज मुशर्रफ के वकीलों ने पाकिस्तानी तालिबान के धमकी भरे पत्र का उल्लेख करते हुए अपने मुवक्किल के खिलाफ देशद्रोह के मामले की सुनवाई का स्थान आज बदलने की मांग की। वकीलों ने एक पत्र पेश किया जो कि उन्हें कथित तौर पर तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) ने लिखकर उनसे कहा था कि वे मामले से अलग हो जाएं।

मुशर्रफ के वकील अहमद रजा कसूरी ने कहा कि टीटीपी ने उनके मुवक्किल के विधि दल को धमकी दी है, जिसमें उनके अलावा वकील अनवर मंसूर और शरीफुद्दीन पीरजादा शामिल हैं। उन्होंने इसके अलावा यह भी कहा कि सोमवार को इस्लामाबाद में एक अदालत पर हुए हमला हुआ, जिसमें 11 लोग मारे गए, जिस कारण यहां नेशनल लाइब्रेरी में गठित अदालत को एक सुुरक्षित स्थान पर स्थानांतरित किया जाना चाहिए। बचाव पक्ष के वकीलों ने इस संबंध में एक अर्जी दायर की है। यद्यपि अभियोजक अकरम शेख ने दलील दी कि अदालतें युद्ध के समय भी अपना कामकाज करती हैं।

न्यायमूर्ति फैजल अरब ने कहा कि किसी धमकी के मद्देनजर मामले की फाइल बंद करके रिकार्ड रूम में नहीं रखी जा सकती। उन्होंने कल एक घंटे तक इस्लामाबाद के महानिरीक्षक और आयुक्त से बात की और उन्होंने उन्हें भरोसा दिलाया है कि अदालत सुरक्षित है। मामले की सुनवाई 7 मार्च के लिए स्थगित कर दी गई है। साथ ही उन्होंने कहा, ‘‘हमें अपनी जिम्मेदारियों का अहसास है, यदि मामला अदालत के समक्ष आता है तो उसे आगे बढ़ाना होगा, हम जीवन को किसी खतरे के लिए अपना कर्तव्य नहीं छोड़ सकते।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You