वैज्ञानिको का ओजोन परत को लेकर नया खुलासा!

  • वैज्ञानिको का ओजोन परत को लेकर नया खुलासा!
You Are HereInternational
Monday, March 10, 2014-1:01 PM

पेरिस: वैज्ञानिको के नए शोध के अनुसार सूर्य की खतरनाक पैराबैगनी किरणों से रक्षा करने वाली ओजोन की परत के लिए नुकसानदायक चार नई गैसेंं वायुमंडल में पाई गई हैं जिनके लिए मनुष्य जिम्मेदार है। नेचर जियोसाइंस पत्रिका में यूरोप और आस्ट्रेलिया के वैज्ञानिकों के प्रकाशित इस शोध के अनुसार 1990 के दशक के बाद ओजोन को नुकसान पहुंचाने वाली इन नई गैसों का पता पहली बार लगा है। शोध के अनुसार 1960के दशक तक ये गैसे वायुमंडल में नहीं थीं। इससे साबित होता है कि इनके लिए मनुष्य ही जिम्मेदार है।

वैज्ञानिकों ने कहा कि इन चार गैसों की मौजूदगी चिंता का विषय है क्योंकि ये ओजोन की परत के लिए खतरनाक हैं। इनमें से तीन गैसें क्लोरोफ्लोरोकार्बन समूह की हैं तथा चौथी हाइड्रोक्लोरोफ्लोरोकार्बन की हैं। क्लोरोफ्लोरोकार्बन प्रिज, एअरकंडीशन एअरोसोल स्प्रे से निकलती हैं। हालांकि मोंट्रियल संधि के तहत इसे प्रतिबंधित किया जा चुका है। वर्ष 2012 तक इन खतरनाक गैसों की सात हजार टन से भी ज्यादा मात्रा  वातावरण में इक्ट्ठा हो चुकी थीं। हालांकि वैज्ञानिकों ने कहा कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं मिल सकी है इन गैसों का उत्सर्जन कहां से हुआ है। इसकी जांच करनी पडेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You