हथियारों की तस्करी में लीबिया का पहला स्थान

  • हथियारों की तस्करी में लीबिया का पहला स्थान
You Are HereInternational
Tuesday, March 11, 2014-10:43 AM

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र विशेषज्ञों का कहना है कि लीबिया हथियारों की तस्करी करने वाला प्रमुख एक देश बन गया है और यहां से अवैध रूप से कम से कम 14 देशों में पहुंचाए गए अत्याधुनिक हथियारों के कारण कई देशों और महाद्वीपों में अशांति फैल रही है।

सुंयक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की लीबिया प्रतिबंध समिति के अध्यक्ष अफ्रीकी देश रवांडा के संयुक्त राष्ट्र में राजदूत यूजीन गसाना ने 15 सदस्यीय सुरक्षा परिषद को इस संबंध में जानकारी दी। संयुक्त राष्ट्र द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों का उल्लंघन करने वालों के देशों के निरीक्षण के लिए गठित स्वतंत्र विशेषज्ञों के दल ने लीबिया के संदर्भ में अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी थी।

गसाना ने कहा, "लीबिया मे हथियारों के बड़े हिस्से पर गैर-सरकारी तत्वों का कब्जा है और दूसरे देशों से लगती इसकी सीमा पर नियंत्रण भी बेहद कमजोर है, ऐसे में हथियारों की तस्करी पर प्रभावी नियंत्रण संभव नहीं है। यही कारण है कि लीबिया हथियारों की तस्करी करने वाला एक प्रमुख देश बन गया है।"

लीबिया में मुअम्मर गद्दाफी को अपदस्थ करने के लिए हुए गृहयुद्ध शुरू होने के बाद 2011 से संयुक्त राष्ट्र ने प्रतिबंध लगाए हुए है। गद्दाफी को अपदस्थ किए जाने के बाद से देश में सत्ता संभालने वाली सरकार उसके खिलाफ मोर्चा खोले कई अतिवादी संगठनों को काबू पाने के लिए संघर्ष कर रही है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You