बाथ टब में मसाज के लिए बुलाया पति और...

  • बाथ टब में मसाज के लिए बुलाया पति और...
You Are HereAmerica
Wednesday, March 12, 2014-1:57 PM

ह्यूस्टन: ह्यूस्टन में रहने वाली भारतीय मूल की 27 वर्षीया महिला श्रेया पटेल को अपने पति को आग लगाने का दोषी पाया गया। श्रेया के पति की मौत दो साल पहले आग लगने के कारण हो गई थी, हालांकि जूरी ने श्रेया को हत्या का दोषी नहीं माना। बुधवार से ट्राविस काउंटी की अदालत में श्रेया पटेल की सजा पर बहस शुरू होगी।

सरकारी वकील के अनुसार,  श्रेया मसाज करने के बहाने अपने पति विमल पटेल को बाथ टब में ले गई और फिर उस पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। यह घटना 17 अप्रैल 2012 की है। 29 वर्षीय विमल पटेल की मौत घटना के पांच महीने बाद हुई।

वकील का कहना  था कि विमल से शादी करने के बाद श्रेया की उम्मीदें टूट गईं क्योंकि वह उतना अमीर नहीं था, जितना श्रेया ने सोचा था। कुछ गवाहों ने यह भी बताया कि श्रेया किसी और व्यक्ति से प्यार करती थी और उसने केवल व्यक्ति को जलाने के लिए विमल पटेल से शादी की थी।

दूसरी तरफ श्रेया के वकील के अनुसार,  विमल ने खुद को आग लगाई थी और श्रेया को इस काम में मदद करन के लिए मजबूर किया था। श्रेया की तरफ से एक गवाह के तौर पर टेक्सस यूनिवर्सिटी में भारतीय संस्कृति पढ़ाने वालीं एक असोशिएट प्रौफेसर पेश हुई। प्रौफेसर ने बताया कि अरेंज्ड मैरेज में महिलाओं को पुरुष के साथ रहने और उसकी सफलता और धन कमाने की लालसा में साथ देने के लिए प्रेरित किया जाता है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You