भारत, अमेरिका मिलकर बहुत कुछ कर सकते हैं: ओबामा

  • भारत, अमेरिका मिलकर बहुत कुछ कर सकते हैं: ओबामा
You Are HereInternational
Wednesday, March 12, 2014-6:32 AM

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने नए भारतीय राजदूत सुब्रह्मण्यम जयशंकर का स्वागत करते हुए उनसे कहा कि दोनों देश मिल कर बहुत कुछ कर सकते हैं। भारतीय दूतावास के मुताबिक, जयशंकर ने सोमवार को व्हाइट हाउस के ओवल ऑफिस में अपने दस्तावेज पेश किए, इस दौरान ओबामा ने उन्हें उनकी नई जिम्मेदारी के लिए बधाई दी।

जयशंकर ने इसके जवाब में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की तरफ से भेजे गए शुभकामना संदेश भी ओबामा और मिशेल ओबामा को दिए। जयशंकर ने ओबामा को आर्थिक व व्यापारिक संबंधों, रक्षा व सुरक्षा, ऊर्जा, विज्ञान व प्रौद्योगिकी और वैश्विक मसले सहित द्विपक्षीय संबंधों के मुख्य स्तंभों का विस्तार करने का भरोसा दिया।

उन्होंने हालांकि, ओबामा को अपने दस्तावेज औपचारिक रूप से सोमवार को सौंपे, लेकिन वह क्रिसमस के मौके पर ही अमेरिका आ गए थे और देवयानी खोब्रागड़े मामले के बाद भारत-अमेरिका संबंधों को पटरी पर लाने की कोशिश में जुटे हुए थे। जयशंकर ने भारत-अमेरिका परमाणु संधि में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी और उन्होंने खोब्रागड़े मामले के बाद उपजे संकट को समाप्त करने के लिए अमेरिकी नौकरशाहों के बीच अपने मजबूत संपर्क का इस्तेमाल किया। चीन में भारतीय राजदूत के रूप में चार सालों तक जिम्मेदारी संभालने के बाद अमेरिका पहुंचे जयशंकर ने निरूपमा राव का स्थान लिया। इससे पहले जयशंकर ने चीन में निरूपमा का स्थान लिया था, जब उन्होंने भारत लौट कर विदेश सचिव की जिम्मेदारी संभाली थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You