... जब दो दिन तक वोदका चढ़ा बचाई गई जान

  • ... जब दो दिन तक वोदका चढ़ा बचाई गई जान
You Are HereInternational
Wednesday, March 12, 2014-11:12 AM

मेलबर्न: शराब को जहां जानलेवा माना जाता है, वहीं शराब की वजह से एक जान को बचाया गया है। मामला सुनने में थोड़ा अजीब हैं, लेकिन साथ में सच भी। यह घटना ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न शहर की है।

यहां रहने वाली जेसिंथा रोसवर्म एक दिन अपने गैराज की सफाई कर रही थी। उनके साथ उनका कुत्ता चार्ली भी था। तभी जेसिंथा के कुत्ते ने गैराज में पड़ा इंजन ऑयल पी लिया।

मिरर के अनुसार, इंजन ऑयल पीने के बाद कुत्ते के भौंकने की आवाजें आना बंद हो गई। जब जैसिंथा ने उसे ढूंढा तो पाया कि वह गैराज में कोने में बेहोश पड़ा है। पास खुले इंजन ऑयल देखकर वह सब समझ गई और फौरन चार्ली को लेकर अस्पताल भागी। डॉक्टरों ने चार्ली के पेट में ईथाइन ग्लायकॉल नाम का जहर पाया और देखा कि ऐसे में चार्ली की किडनी फेल हो जाएगी और वह मर जाएगा।

डॉक्टरों ने चार्ली के जहर को खत्म करने लिए उसे वोदका की ड्रिप देने की सोची। लगातार दो दिनों तक चार्ली को वोदका चढ़ाई और चमत्कार तो तब हुआ जब वह ठीक हो गया। डॉक्टारों द्वारा दो दिन तक वोदका चढ़ाने के बाद उसकी हालत में सुधार देखा गया और जेसिंथा के साथ घर भेज ‌दिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You