विमान के लापता होने के बाद मिले कुछ ऐसे संकेत!

  • विमान के लापता होने के बाद मिले कुछ ऐसे संकेत!
You Are HereInternational
Sunday, March 16, 2014-4:07 PM

कुआलालंपुर: 8 मार्च से लापता हुए मलेशिया के विमान एमएच370 का कोई पुख्ता सुराग नहीं मिला है। दूसरी तरफ मलेशिया के प्रधानमंत्री नजीब रज्जाक को इस बात की आशंका है विमान को हाईजैक किया गया है। विमान पर अवश्य ही कुछ ऐसे लोग बैठे थे, जिन्हें उड़ान का अनुभव था। संचार उपकरणों को बंद कर उड़ान का रास्ता बदला गया।रडार स्क्रीन से गायब होने के सात घंटे बाद विमान से संकेत मिले थे।

मलेशियाई प्रधानमंत्री की प्रेस कांफ्रेंस खत्म होते ही पुलिस ने सुबूतों को ढूंढने के लिए लापता विमान के 53 वर्षीय पायलट जहारी अहमद शाह के घर की तलाशी शुरू की। हालांकि नजीब ने यह भी कहा, 'अभी किसी नतीजे पर पहुंचना मुश्किल है। तलाश नए चरण में दाखिल हो रही है। सेटेलाइट और रडार ट्रैकिंग के जरिए नए सुबूत मिले हैं।'

नए सुबूतों के मुताबिक, गत शनिवार सुबह 1.22 बजे नागरिक हवाई यातायात नियंत्रण स्क्रीन पर दिखाई देने के बाद लापता विमान और सेटेलाइट के बीच करीब सात घंटे बाद यानी सुबह 8.11 बजे संपर्क हुआ था। इससे पता चलता है कि उस समय विमान 'उत्तरी थाईलैंड से कजाकिस्तान व तुर्कमेनिस्तान की सीमा' और 'इंडोनेशिया से दक्षिणी हिंद महासागर' के दो गलियारों में किसी एक ओर उड़ान भर रहा था। चीन ने लापता विमान के संबंध में जानकारियां मांगी हैं।

दूसरी तरफ लापता विमान से मिले इलेक्ट्रॉनिक संकेतों के विश्लेषण से पता चला है कि ईंधन खत्म हो जाने के कारण विमान हिंद महासागर में गिर गया। अमेरिकी सरकार को मिल रही सूचनाओं से परिचित एक सूत्र ने यह जानकारी दी। उसने कहा, इस बात की संभावना बहुत कम है कि विमान भारत की ओर उड़ान भर रहा था, लेकिन ये इलेक्ट्रॉनिक संकेत काफी अस्पष्ट हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You