बगदाद में कैद 30 गुजराती युवा स्वदेश लौटे

  • बगदाद में कैद 30 गुजराती युवा स्वदेश लौटे
You Are HereNational
Tuesday, March 18, 2014-11:45 PM

अहमदाबाद: इराक के बगदाद में कथित तौर पर कैद कुल 30 गुजराती युवा आज दक्षिण गुजरात के नवसारी में स्थानीय नेताओं और पुलिस के प्रयास से घर वापस लौट आये हैं। नवसारी से भारतीय जनता पार्टी के सांसद सी.आर. पाटिल ने यूनीवार्ता को बताया कि 30 गुजराती का युवाओं के एक समूह बगदाद से सुरक्षित गुजरात के नवसरी जिले में वापस लौटा। अब 28 लोगों को दूसरा समूह कल वापस आयेगा।

उन्हें बगदाद से मुंबई वापिस आने वाले विमान में पूरे समूह की बुकिंग नहीं मिल सकी थी। श्री पाटिल के अनुसार कुछ महीनों पहले एक स्थानीय ट्रैवल एजेंट द्वारा एक अस्पताल की परियोजना के लिए यहां से इराक के बगदाद में काम के लिए लगभग 65 लोगों को भेजा गया था। ट्रैवल एजेंट ने इराक जाने के लिए प्रति व्यक्ति से 80 हजार रूपए लिये एवं अच्छा वेतन दिलवाने का वादा किया और कहा कि आराम से रहने के लिए आवास दिया जाएगा। जब वह बगदाद पहुंचे उनके नियोक्ता ने उनको एक जर्जर आवास उपलब्ध कराया और न खा सकने योग्य भोजन दिया।

जब युवाओं ने अपनी शिकायत दर्ज करायी तो नियोक्ता ने उनके पासपोर्ट को जब्त कर लिया और उन सभी को कैद कर लिया गया। जब सात युवाओं का एक समूह वहां से भारत वापस आया। तो उन्होंने अपने परिवार और स्थानीय नेता के सामने अपनी दुर्दशा को बताया। तब उन्होने नवसारी पुलिस थाने में स्थानीय ट्रैवल एजेंट पर धोखाधडी की शिकायत दर्ज करायी जिसने उन्हें बगदाद भेजा था।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You