रूस के खिलाफ प्रतिबंध के गंभीर परिणाम होंगे

  • रूस के खिलाफ प्रतिबंध के गंभीर परिणाम होंगे
You Are HereInternational
Wednesday, March 19, 2014-12:37 AM

मास्को: रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने आज कहा कि यूक्रेन के मसले रूस पर प्रतिबंध लगाने के गंभीर परिणाम होगे। रूसी मंत्रालय के यहां जारी एक बयान में श्री लावरोव ने कहा कि पश्चिमी देशों के ये प्रतिबंध अस्वीकार्य है और इनका उलट प्रभाव पडे बगैर नहीं रहेगा। इससे पहले रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन तथा पश्चिमी देशों के विरोध तथा प्रतिबंध की चेतावनी को नजरअंदाज करते हुए कहा कि उनका देश क्रीमिया क्षेत्र को रसी परिसंघ में शामिल करने की प्रक्रिया को आगे बढायेगा।

श्री पुतिन ने रसी परिसंघ तथा क्रीमिया के बीच की जाने वाली संधि के मसविदे को मंजूरी दे दी है और अब वह इस संधि पर क्रीमिया के नेता के साथ हस्ताक्षर करेंगे। रस तथा क्रीमिया के बीच संधि का कदम क्रीमिया में रविवार को कराये गये जनमत संग्रह के बाद उठाया गया है। जनमत संग्रह में 97 प्रतिशत लोगोंं ने 60 वर्ष बाद रसी प्रशासन के अन्तर्गत लौटने के पक्ष में वोट दिया था। कल अमेरिका तथा यूरोपीय संघ ने रस के उन अधिकारियों के विरुद्ध प्रतिबंध लगाया था जिनकी इस संकट को पैदा करने में मुख्य भूमिका थी।

यूक्रेन ने काला सागर के इस प्रायद्वीप पर कब्जे में रसी सैनिक अधिकारियों की भागीदारी के लिए उनकी आलोचना की थी। जापान भी प्रतिबंध लगाने वालों में शामिल हो गया। उसने रस में पूंजी निवेश को बढावा देने तथा रस के लिए वीजा प्रणाली को उदार बनाने के कदम को स्थगित कर दिया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You