अनसुलझा रहस्य बनता जा रहा है मलेशिया का लापता विमान

  • अनसुलझा रहस्य बनता जा रहा है मलेशिया का लापता विमान
You Are HereInternational
Wednesday, March 19, 2014-1:13 PM

कुआलालम्पुर: गत आठ मार्च से लापता मलेशिया एयरलाइंस  का  विमान का  अब अनसुलझे रहस्यों की सूची में शामिल होता दिख रहा है। विमान के लापता होने के पीछे कई तरह की संभावनाएं बताई जा रही हैं और जांच का दायरा भी इसी वजह से काफी विस्तृत हो गया है। विमान की तलाश में जुटे 26 देश लापता होने के संभावित कारणों की गहन पड़ताल कर रहे हैं लेकिन आज 11वें दिन भी उनके हाथ कोई सुराग नहीं लग पाया है।

लापता विमान के बारे में कई तरह के दावे अब भी किए जा रहे हैं और कल इस संबंध में दो नए दावे और सामने आए हैं। पहला दावा थाइलैंड ने किया है कि उसकी सेना ने विमान को देखा  है।  थाइलैंड की सेना ने कल बताया कि उनके रडार पर लापता विमान दिखाई दिया था। सेना ने  कहा है कि उन्होंने अपने रडार पर किसी विमान को देखा था और उन्हें ऐसा लगता है कि वह विमान मलेशिया एयरलाइंस का ही था। लेकिन उन्होंने इस संबंध में रिपोर्ट नहीं की क्योंकि उन्होंने इस पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया।
         
थाइ सेना के एक अधिकारी ने कल बताया कि उन्हें आठ मार्च को अपराह्न डेढ बजे सैन्य रडार पर एक यात्री विमान के सिग्नल मिले थे जिससे पता चला कि वह विमान कुआलालम्पुर की ओर जा रहा था जो बाद में मलक्का जलडमरूमध्य के पास मलेशिया के एक दूसरे शहर
बटरवर्थ की ओर मुड़ गया।

दूसरा दावा  भारत में हैदराबाद शहर के एक इंजीनियर ने किया है। एक भारतीय दैनिक के अनुसार  29 वर्षीय अनूप माधव ने एक उपग्रहीय तस्वीर में संभवत लापता विमान को देखा है। अनूप माधव ने यह तस्वीर डिजिटल ग्लोब सैटेलाइट वेबसाइट  से निकाली है। उन्होंने बताया कि तस्वीर में अंडमान निकोबार  द्वीप समूह के उपर से एक विमान गुजरता हुआ दिखाई दिया।

मलेशिया एयरलांइस के इस रहस्यमय विमान में चालक दल के 12 लोगों सहित कुल 239 लोग सवार थे। इन सभी लोगों के बारे में निजी जानकारियां इकट्ठी कर ली गई हैं। उनकी पृष्ठभूमि की गहन पडताल की गयी है और उनके आंतकवादियों से संबंध होने की जांच भी की गयी है लेकिन ऐसा कोई सबूत नहीं मिला जिससे इस घटना में आतंकवादियों के शामिल होने का पता चला।

जांच का दायरा बढ़ाए जाने के कारण तलाशी अभियान में जुटे देश अब हतप्रभ हो गए हैं। तलाशी अभियान में मलेशिया का नेतृत्व करने वाले एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज बताया कि अब जांच का दायरा घटाने की जरूरत है और साथ ही उन्होंने पड़ोसी देशों से विमान के संबंध में संवेदनशील जानकारियां मांगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You