काश! 10 डॉलर खर्च किए होते, तो मिल जाता लापता MH370!

  • काश! 10 डॉलर खर्च किए होते, तो मिल जाता लापता MH370!
You Are HereInternational
Sunday, March 23, 2014-1:05 PM

कुआलालम्पुर: आप को यह बात जान कर दुख होगा कि अगर कंपनी ने 10 डॉलर का खर्च किया होता तो आज मलेशिया एयरलाइंस के विमान एम.एच. 370 को ढूंढना आसान हो जाता। कंपनी को प्रत्येक फ्लाइट के लिए सिर्फ 10 डॉलर वाला कम्प्यूटर अपग्रेड विकल्प चुनना था। इस कम्प्यूटर अपग्रेड से विमान के साथ सारे संपर्क  टूट जाने पर उसकी सही स्थिति का पता चल जाता।

वॉशिंगटन पोस्ट से एक सैटेलाइट इंडस्ट्री के अधिकारी ने बातचीत के दौरान कहा कि यदि 'स्विफ्ट' नामक इस सिस्टम के पूरे पैकेज एप्लीकेशन को लिया गया होता तो वह इंजन प्रदर्शन, ईंधन उपभोग, स्पीड, एटिट्यूड और डायरैक्शन की जानकारी देता रहता। वॉशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, मलेशियन एयरलाइंस ने सस्ता विकल्प चुना था। इस प्रकार की खोजी मामले में 'इंटरनेट ऑफ थिंग्स' बेहद सफल सिस्टम है।

वहीं अंतर्राष्ट्रीय तलाशी दलों को 2 सप्ताह के बाद भी इस विमान का कोई सुराग हाथ नहीं लगने से खोज की दिशा को एक बार फिर भारत और थाईलैंड के बीच अंडेमान-निकोबार समुद्र की ओर कर दिया गया है। वहीं लापता विमान के संभावित मलबे की नई तस्वीरों की चीन छान-बीन करेगा। अमरीका का कहना है कि वह लापता विमान की खोज के लिए सोनार गिअर देने पर विचार कर रहा है। इस सोनार गिअर से विमान की खोज करनी आसान हो जाएगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You