क्रीमिया में 190 सैन्य अड्डों पर लहराया रूसी झंडा

  • क्रीमिया में 190 सैन्य अड्डों पर लहराया रूसी झंडा
You Are HereInternational
Monday, March 24, 2014-2:23 PM

सिम्फरोपोल: रूस की जगह यूरोपीय संघ को तरजीह देना यूक्रेन के लिए काफी महंगा सौदा साबित हो रहा है। अमेरिका, जर्मनी और जापान जैसे विकसित देशों के बल पर रूस को नजरें दिखाने के चक्कर में यूक्रेन ने न सिर्फ अपने इलाके क्रीमिया से हाथ धोया बल्कि उसकी सैन्य शक्ति भी अपेक्षाकृत काफी कमजोर हो गई है। रूस ने क्रीमिया में मौजूद यूक्रेन के 190 सैन्य अड्डों पर अपना झंडा फहरा लिया है। क्रीमिया में यूक्रेन की नौसेना का एकमात्र अड्डा फियोदोसिया में बचा था जिस पर आज रूसी सेना ने कब्जा जमा लिया। रूस ने क्रीमिया में मौजूद कि सी भी युद्धपोत को यूक्रेन नहीं लौटने दिया जिससे उसकी नौसेना तबाही के कगार पर पहुंच गई है।

यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने फियोदोसिया पर रूसी सेना के कब्जे की पुष्टि की है। मंत्रालय के प्रवक्ता व्लादिस्लाव सेलजिनियोव ने बताया कि रूसी सेना ने फियोदोसिया में दो दिन के भीतर तीसरी बार आज फिर हमला किया। रूसी सेना ने अत्याधुनिक हथियारों और ग्रेनेड से हमला किया। उन्होंने दो तरफ से अड्डे को घेरा और यूक्रेन के सभी अधिकारियों के हाथ बांध दिए। रूसी सेना ने इससे पहले गत शुक्रवार को दो सैन्य अड्डों पर कब्जा किया था। रूस के मुताबिक क्रीमिया में यूक्रेन के 18000 सैनिक तैनात थे जिनमें से मात्र 2000 ने क्रीमिया लौटने की इच्छा जताई है। शेष सभी सैनिक रूसी सेना का हिस्सा बनना चाहते हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You