मोबाइल क्रांति ने बदली भूटान की दिशा

  • मोबाइल क्रांति ने बदली भूटान की दिशा
You Are HereInternational
Monday, March 24, 2014-6:51 PM

थिंपू: मध्य हिमालय की गोद में बसा भूटान मोबाइल क्रांति की बदौलत करीब डेढ़ दशक में परंपरागत सामंती युग से पूरी तरह आधुनिक युग में परिवर्तित हो चुका है। वर्ष 1999 में टेलीविजन से पहली बार साक्षात्कार करने वाले इस देश की लगभग 90 प्रतिशत आबादी आज मोबाइल और इंटरनेट की दुनिया से जुड़ी हुई है। प्रधानमंत्री त्सहेरिंग तोबगे का अपना फेसबुक पेज है जिसमें उनके फालओवर्स की संख्या 25 हजार से अधिक है।

गांवों का देश कहे जाने वाले भूटान के ग्रामीण क्षेत्र की कुल आबादी सात लाख 50 हजार के करीब है जबकि वहां कार्य कर रहे दो सेल्यूलर नेटवर्क के ग्राहको की संख्या साढ़े पांच लाख से ऊपर है। वर्ष 2012 में हुए एक आधिकारिक सर्वेक्षण के अनुसार करीब एक लाख 20 हजार भूटानी नागरिक मोबाइल अथवा इंटरनेट से लैस थे। भूटान के एक साप्ताहिक अखबार के संपादक तेनजिंग लैमसेंग देश में अविश्वसनीय बदलाव की वजह राजनीति तंत्र में फेरबदल को मानते है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You