बुरे समय में काम आए जूते, जानिए कैसे

  • बुरे समय में काम आए जूते, जानिए कैसे
You Are HereInternational
Thursday, March 27, 2014-9:25 AM

वर्क्सहम: आए दिनों हम कई तरह की सड़क दुर्घटना के बारे में सुनते हैं। कई दुर्घटनाएं जानलेवा साबित होती हैं तो कई बार अच्छी किस्मत होने के कारण जान बच जाती है। कुछ ऐसी ही कहानी है राबर्ट फिलिप्स की भी। बस द्वारा टक्कर लगने के बावजूद उनकी जान बच गई।

दरअसल हुआ कुछ यूं था कि एक दिन वह सड़क से गुजर रहे थे कि एक बस तेज रफतार से आई और उन्हें रौंदते हुए चली गई। वह बस एक सिंगल डेकर बस थी, जिसका वजन लगभग दस टन के करीब था। दुर्घटना के दौरान राबर्ट के पैर बस के पहियों के नीचे आ गया। इसे राबर्ट की अच्छी किस्मत कहे या कुछ और बस गुजरने के बाद भी उनके पैर में कुछ नहीं हुआ। वह बस मामूली रूप से जख्मी हुए। इन दिनों राबर्ट घर में ही रहकर पूरी तरह से अपनी हल्की चोटों को ठीक करने में लगे हैं।

हालांकि वह खुद हैरान हैं कि वह कैसे बच गए, लेकिन पैर के बिल्कुल ठीक होने की दलील देते हुए राबर्ट कहते हैं उन्हें लगा था कि उनके पैर तो अब नहीं रहेंगे, लेकिन दुर्घटना के दिन उसने अपनी पसंद के खास 'स्टील टो' पहन रखे थे। उनका मानना था कि जूतों के आगे स्टील लगे होने के कारण उनके पैरों में किसी तरह की चोट नहीं लगी और वह सुरक्षित रहे। वह अपनी नई जिंदगी मिलने के लिए अपने जूतों का शुक्रिया भी करते हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You