‘शायद कभी नहीं सुलझ सकेगा लापता विमान का रहस्य’

  • ‘शायद कभी नहीं सुलझ सकेगा लापता विमान का रहस्य’
You Are HereInternational
Wednesday, April 02, 2014-7:05 PM

पर्थ: दुर्घटनाग्रस्त विमान के पीछे के रहस्य की जांच कर रही मलेशियाई पुलिस ने आज कहा कि कि विमान के लापता होने का कारण शायद कभी पता नहीं चल पाए। दूसरी ओर हिंद महासागर में विमान का मलबा तलाशने का अभियान बगैर किसी सफलता के जारी है। पुलिस महानिरीक्षक खालिद अबू बकर ने कहा, ‘‘जांच जारी रह सकती है। हमें हर छोटी बात स्पष्ट करनी होगी।’’ उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘ यह हो सकता है कि जांच के अंत में भी हमें असली कारण का पता नहीं चल पाए। हो सकता है कि हमें इस दुर्घटना के कारण का पता नहीं चल पाए।’’ बकर ने बताया कि गहन जांच के दौरान यात्रियों, चालक और सह चालक के परिजन समेत 170 लोगों से पूछताछ करने के बाद लापता एमएच370 के बारे में कुछ सुराग मिले हंै। इस संबंध में और लोगों से पूछताछ की जाएगी। अधिकारी ने इस बारे में विस्तार से नहीं बताया। इसलिए यह पता नहीं है कि ये सुराग कितने पुख्ता हैं।

अबू बकर ने कहा, ‘‘ मैं चालक एवं चालक दल के सदस्यों की पृष्ठभूमि की जांच के बारे में कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं क्योंकि वे जांच का विषय हैं। चार मुख्य बिंदुओं -निजी एवं मनोवैज्ञानिक समस्याओं, तोड़-फोड़ एवं अपहरण संबंधी जांच में यात्रियों को शामिल नहीं पाया गया है।’’ बकर ने कहा कि पुलिस को तोड़ फोड़ की संभावना को नकारने के लिए सावधानी से जांच करनी होगी। उन्होंने कहा, ‘‘उदाहरण के लिए जब हमें पता चला कि विमान में मैंगोस्तीन रखे थे तो हमें यह पता करना पड़ा कि वे कहां से आए। हमने पता लगाया कि किसने इन फलों को तोड़ा, उन्हें पैक किया और बाहर भेजा और किसने उन्हें विमान में रखा।’’विदेशी एवं स्थानीय सूत्रों के साथ साथ विमान में सवार यात्रियों एवं चालक दल के सदस्यों के परिजन के 170 से अधिक बयान दर्ज किए गए हैं। बकर ने कहा, ‘‘ हमें संपूर्ण जांच करनी होगी और हमें समय चाहिए. आप जल्दी नहीं कर सकते हैं।’’

पुलिस मामले को आपराधिक जांच के तौर पर ले रही है। खालिद अबू बकर ने आगाह किया कि अधिकारी शायद एमएच370 के लापता होने का कारण कभी पता नहीं लगा पाए। जांचकर्ताओं का मानना है कि विमान में सवार किसी व्यक्ति ने इसे निर्धारित पथ से जानबूझकर मोड़ा। इसी कारण से विमान के कप्तान जाहिरी अहमद शाह:53: और फस्र्ट ऑफिसर फारिक अब्दुल हामिद (27) के बारे में गहरी छानबीन की जा रही है। इस मामले की जांच को लेकर विमानन क्षेत्र के विशेषज्ञों और पीड़ित परिवारों ने मलेशिया की आलोचना की है। विमान का मलबा तलाश करने के लिए चलाए जा रहे अभियान के 25वें दिन ब्रिटेन की परमाणु पनडुब्बी एचएमएस टायरलेस भी तलाश के काम में शामिल हो गई। 10 से अधिक विमान और नौ पोत आज के तलाश के अभियान में शामिल हुए। आस्ट्रेलियाई समुद्री सुरक्षा प्राधिकरण ने पर्थ से 1504 किलोमीटर उत्त-पश्चिम में करीब 221,000 वर्गकिलोमीटर के क्षेत्र को तलाश के लिए चिन्हित किया है।   


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You