इस नन्ही सी जान ने किया ऐसा काम कि मर कर भी भूल न पाएगी मां

  • इस नन्ही सी जान ने किया ऐसा काम कि मर कर भी भूल न पाएगी मां
You Are HereInternational
Saturday, April 05, 2014-4:18 PM

बीजिंगः मां और उसके बच्चे के बीच का रिश्ता बेहद करीबी और प्यार भरा होता है। एक मां की ममता उसके बच्चे के प्रति कभी भी कम नहीं होती, लेकिन इस कहानी में बेटे ने जो अपनी मां के लिए किया शायद ही आपने पहले कभी सुना होगा। यकीनन इस मां बेटे की कहानी सुनकर आपकी आंखों में भी आंसू छलक आएंगे।

दरअसल, इस कहानी में बेटे चेन और मां जाउ लू दोनों को ही ऐसी गंभीर बीमारी थी कि उनकी मौत पक्की थी महज सात साल की उम्र से ही चेन को ब्रेन ट्यूमर था। डॉक्टरों का कहना था कि ट्यूमर इतना गहरा था कि उससे बच्‍चे की कुछ समय बाद मौत निश्चित थी। वहीं दूसरी तरफ चेन की मां जाउ की दोनों किडनियां भी खराब हो गई थी

डॉक्टरों ने बताया कि अगर कहीं से भी जाउ ने किडनी का इंतजाम नहीं किया तो उसकी दोनों किडनी फेल हो जाएगी और वो मर जाएगी। मां की इस हालत का जब सात साल के चेन को पता लगा तो उसने लिया एक ऐसा फैसला जिसे लेने से पहले कोई भी हजार बार सोचे। उसने अपनी जान बचाने के लिए उसने अपनी किडनी का फैसला किया। यह बात सुनकर मां के दिल पर जैसे खंजर चल गए।

लेकिन थोड़े दिनों बाद दोनों के काफी बातें करने के बाद डॉक्टरों ने भी बेटे चेन के फैसले को सही बताया। डॉक्टरों ने बताया कि चेन की जान तो ब्रेन ट्यूमर के वजह से वैसे भी चली ही जाएगी, लेकिन मां की जान किडनी के लगाने पर बचाई जा सकती है। अपनी मां की जान बचाने के लिए बच्‍चे ने डॉक्टरों को फौरन अपना ऑपरेशन करने को कहा।

डॉक्टरों ने ऑपरेशन कर लड़के के दोनों ठीक किडनियां निकाल लीं और मां की खराब किडनी से उन्हें बदल दिया, लेकिन ऑपरेशन के बाद जब मां को होश आया तब तक उसे जिंदगी तो मिल गई, लेकिन उसका बेटा नहीं रहा। चेन ऑपरेशन के दौरान ही अपना दम तोड़ चुका था। एक बेटे का मां की जिंदगी के लिए किया गया ये दान शायद ही कभी कोई भूल सके।



 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You