अमेरिकी पुलिस अधिकारी की गिरफ्तारी बदले की कार्रवाई नहीं : भारत

  • अमेरिकी पुलिस अधिकारी की गिरफ्तारी बदले की कार्रवाई नहीं : भारत
You Are HereInternational
Saturday, April 05, 2014-7:56 PM

वाशिंगटन: भारतीय प्रशासन ने अमेरिकी मीडिया के उस दावे को खारिज कर दिया है, जिसमें कहा गया है कि अमेरिकी पुलिस अधिकारी की गिरफ्तारी देवयानी खोबरागड़े मामले के बदले के रूप में की गई है। इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे (आईजीआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 11 मार्च को तड़के 1.30 बजे गिरफ्तार किए गए अमेरिकी पुलिस अधिकारी मैन्नी एनकारनेसियन के लगेज में मौजूद एक जैकेट की जेब में नौ एमएम के तीन कारतूस मिले थे।

उन्होंने बताया कि हारलेम के पुलिस अधिकारी एनकारनेसियन को दिल्ली की एक अदालत में पेश किया गया था। अदालत ने उसी दिन उन्हें जमानत दे दी थी। अमेरिकी मीडिया का कहना है कि अमेरिकी पुलिस अधिकारी की गिरफ्तारी, न्यूयॉर्क में भारत की तत्कालीन राजनयिक देवयानी खोबरागड़े की गिरफ्तारी और निर्वस्त्र तलाशी का बदला लेने के लिए की गई थी।

इस दावे को खारिज करते हुए एक अधिकारी ने बताया, ‘‘अगर कोई अपने सामान में कारतूस लेकर आया है, तो यह भारतीय कानून के खिलाफ है। ऐसे मामलों में एक प्रक्रिया का पालन किया जाता है।’’ अधिकारी ने कहा, ‘‘यह एक अलग मामला है और देवयानी के मामले से इसका कुछ भी लेना-देना नहीं है।’’ आईजीआई के पुलिस उपायुक्त एम. आई. हैदर ने बताया, ‘‘एनकारनेसियन को शस्त्र अधिनियम की धारा 25/54/59 के तहत गिरफ्तार किया गया था और पटियाला हाउस अदालत में पेश किया गया था।’’

अधिकारी के मुताबिक, एनकारनेसियन पुणे में रह रही अपनी पत्नी से मिलने भारत आए थे। अमेरिकी समाचार पत्र ‘द न्यूयॉर्क पोस्ट’ ने इस गिरफ्तारी को बदले की कार्रवाई करार दिया था। एनकारनेसियन पर 19 अप्रैल को अगली पेशी होने तक भारत से बाहर जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है। इधर अमेरिकी सांसदों ने विदेश मंत्री जॉन केरी से, भारत से एनकारनेसियन को रिहा करने की मांग करने को कहा है। हलांकि विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मैरी हार्फ ने शुक्रवार को इस मामले पर टिप्पणी से इंकार कर दिया।
(
आईएएनएस)


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You