मलेशिया लापता विमान: उम्मीद को लगा बड़ा झटका

  • मलेशिया लापता विमान: उम्मीद को लगा बड़ा झटका
You Are HereInternational
Tuesday, April 08, 2014-3:55 PM

सिडनी: मलेशिया के लापता विमान के ब्लैक बॉक्स रिकार्डर से संकेत मिलने के बाद गुत्थी सुलझने की उम्मीद को आज बड़ा झटका देते हुए आस्ट्रेलियाई अधिकारियों ने कहा कि उनके पोत को उसके बाद किसी तरह का कोई सिग्नल नहीं मिला है।

कुआलालंपुर से बीजिंग के लिए उड़ान भरने वाले विमान एम. एच. 370 की तलाश में सहयोग दे रही आस्ट्रेलियाई एजेंसी के प्रमुख एनगुस ह्यूस्टन ने कहा कि हिंद महासागर में एक माह तक चली तलाश अब एक नाजुक दौर पर पहुंच गई है क्योंकि ब्लैक बॉक्स की बैटरी अमूमन 30 दिनों तक ही चलती है और विमान के लापता हुए भी इतना ही वक्त हो रहा है। आस्ट्रेलियाई पोत पर तैनात अमेरिकी नौसेना के 'टोड पिंगर लोकेटर' को सप्ताहांत में दो सिग्नल मिले थे, जिनमें से पहला सिग्नल दो घंटे से भी अधिक समय तक तथा दूसरा सिग्नल करीब 13 मिनट तक दर्ज किया गया था।

ह्यूट्सन ने कहा कि ये सिग्नल ब्लैक बॉक्स के सिग्नल से काफी मिलता-जुलता था और इन्हें खोज की दिशा में अहम सुराग माना जा रहा था, लेकिन उसके बाद फिर कोई और सिग्नल मिलने में सफलता हासिल नहीं हुई है। उन्होंने कहा, "अगर हमें आगे किसी तरह का सिग्नल नहीं मिलता है तो हमें महासागर के तल पर बड़े दायरे में विमान के मलबे की तलाश करनी पड़ेगी, जिसमें बहुत ज्यादा वक्त लगेगा।"

आस्ट्रेलियाई एजेंसी के प्रमुख ने कहा,  "यह बहुत धीमा तथा थका देने वाला काम है।" ब्लैक बाक्स एक ऐसा यंत्र है, जिसमें काकपिट का सारा डाटा होता है तथा उस दिन विमान में क्या हुआ, इसका उत्तर ब्लैक बॉक्स के जरिए ढूंढा जा सकता है।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You