CPEC  के विस्तृत मास्टर प्लान का खुलासा, पता चल गए चीन के इरादे

  • CPEC  के विस्तृत मास्टर प्लान का खुलासा, पता चल गए चीन के इरादे
You Are HereInternational
Monday, May 15, 2017-4:55 PM

इस्लामाबादः चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (CPEC) के विस्तृत मास्टर प्लान का खुलासा हो गया है। पाकिस्तानी पेपर डॉन में CPEC के तहत पाकिस्तान में चीन के इरादों और प्राथमिकताओं का जिक्र किया गया है। डॉन के मुताबिक पाकिस्तान सरकार ने इस परियोजना के 2 संस्करण तैयार किए हैं। ये मास्टर प्लान 231 पेजों में हैं, जिसे चीन डिवैलपमैंट बैंक (CDB) और नैशनल डिवलपमैंट रिफॉर्म कमीशन ने मिलकर तैयार किया है।

हजारों एकड़ कृषि योग्य भूमि चीनी उद्यमों को लीज पर दी जाएगी। पेशावर से कराची तक निगरानी की प्रणाली तैयार की जाएगी, जिसमें कानून-व्यवस्था के लिए रोड और बाजारों की 24 घंटे वीडियो रिकॉर्डिंग भी शामिल है। पाकिस्तान में फाइबर-ऑप्टिक पर आधारित सिस्टम का विकास किया जाएगा, जिसका इस्तेमाल इंटरनेट के अलावा टीवी प्रसारण के लिए भी होगा। चीनी संस्कृति के प्रचार-प्रसार के लिए चीनी मीडिया का सहयोग लिया जाएगा।

CPEC के जरिए झिंजियांग उयगुर स्वायत्त क्षेत्र (XUAR) और पाकिस्तान को जोड़ा जाएगा। इसका मुख्य मकसद दक्षिणी झिंजियांग को पाकिस्तान से जोड़ना है।CPEC में एक बेल्ट, तीन मार्ग, 2 अक्ष और 5 कार्यात्मक क्षेत्र शामिल होंगे। इस योजना में चीनी उद्यमों और संस्कृति द्वारा पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था और समाज के अधिकांश क्षेत्रों में व्यापक आधार पर प्रवेश की परिकल्पना की गई है।

केवल पंजाब प्रांत की सरकार को इस योजना का पूरा विवरण दिया गया। इसमें कृषि के साथ मुख्य रूप से औद्योगिक पार्कों और आर्थिक क्षेत्रों का निर्माण शामिल है, जहां सभी आधारभूत सुविधाएं जैसे पानी की उपलब्धता और ऊर्जा की पर्याप्त आपूर्ति संभव हो।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You