FBI के बयान को ट्रंप ने दी चुनौती

  • FBI के बयान को ट्रंप ने दी चुनौती
You Are HereAmerica
Monday, November 07, 2016-12:14 PM

वाशिंगटन:डोनाल्ड ट्रंप ने आज‘‘धांधली वाली व्यवस्था’’की बात दोहराते हुए अपनी प्रतिद्वंद्वी हिलेरी क्लिंटन को क्लीन चिट दिए जाने को लेकर एफबीआई पर निशाना साधा और कहा कि एक सप्ताह में 6.5 लाख ईमेल पढ़ लेना ‘असंभव’ है। 


जिम कोमी के बयान के बाद ट्रंप ने की ये टिप्पणी
ट्रंप ने मिशीगन के डेट्रोएट में अपने समर्थकों से कहा,‘‘इस समय उन्हें एक धांधली वाली व्यवस्था के जरिए सुरक्षा दी जा रही है।यह पूरी तरह से धांधली वाला तंत्र है।’’ट्रंप की आेर से आई यह टिप्पणी एफबीआई निदेशक जिम कोमी के यह कहे जाने के बाद आई है कि हिलेरी की संलिप्तता वाले कथित ईमेल स्कैंडल की नवीन जांच के बाद उसने अपना नजरिया नहीं बदला है।


कोमी ने हिलेरी के एक करीबी सहयोगी के लैपटॉप में मिले नए ईमेलों के आकलन के बाद यह बात कही थी।एेसा बताया गया है कि लैपटॉप में 6.5 लाख ईमेल थे।कोमी ने अमरीकी कांग्रेस के नेताओं को लिखे पत्र में कहा,‘‘हमारी समीक्षा के आधार पर,हमने उन निष्कर्षों को बदला नहीं है,जो हमने पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी के बारे में जुलाई में दिए थे।’’कुछ घंटे बाद ही ट्रंप ने एफबीआई के इस बयान को चुनौती दी।


ट्रंप ने हिलेरी क्लिंटन को बताया दोषी
ट्रंप ने कहा,‘‘आप आठ दिन में 6.5 लाख ईमेलों की समीक्षा नहीं कर सकते। आप एेसा नहीं कर सकते।हिलेरी क्लिंटन दोषी है। वह इस बात को जानती है।एफबीआई इस बात को जानती है।’’ ट्रंप ने ‘‘उसे (हिलेरी को)जेल में डालो’’ के नारे लगा रहे समर्थकों से कहा,‘‘अब यह अमरीकी जनता पर है कि वह न्याय करे।’’उन्होंने कहा,‘‘एफबीआई के विशेष एजेंट उसे कांग्रेशनल समन मिलने पर उसके 33 हजार ईमेल मिटाने समेत अन्य भयावह अपराधों के लिए बचकर जाने नहीं देंगे।’’हालांकि क्लीवलैंड में प्रचार कर रही हिलेरी ने इसका कोई जिक्र अपने संबोधन में नहीं किया। 
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You