फरजानेह बनी ईरान की पहली महिला CEO

  • फरजानेह बनी ईरान की पहली महिला CEO
You Are HereInternational
Saturday, July 15, 2017-10:52 PM

तेहरान: ईरान में महिलाओं के सार्वजनिक जीवन पर कई प्रतिबंध लगे हुए हैं। ऐसे में किसी महिला को राष्ट्रीय विमान सेवा का नेतृत्व सौंपना किसी आश्चर्य से कम नहीं है। ईरान के 77 साल के इतिहास में यह पहली बार हुआ है जब किसी महिला को यह अहम पद सौंपा गया है। 

ईरान डेली अखबार के मुताबिक, 44 वर्षीय फरजानेह ने एयरोस्पेस इंजीनियरिंग में पीएचडी की है। फरजानेह यह डिग्री पाने वाली भी ईरान की पहली महिला हैं। ईरान में इस नियुक्ति को महिला सशक्तिकरण के रूप में देखा जा रहा है, क्योंकि इस देश में अब भी महिलाओं पर कई तरह के कड़े प्रतिबंध लागू हैं। इस वर्ष की शुरुआत में दोबारा राष्ट्रपति चुने जाने के बाद हसन रोहानी ने ईरान में कई महत्वपूर्ण पदों पर महिलाओं की नियुक्ति की है, जो इस जैसे इस्लामिक देश के लिए परंपरा तोडऩे जैसा निर्णय है।

फरजानेह एयरलाइन शोध विभाग की डीजी भी रह चुकी हैं। एक इंटरव्यू में फरजानेह ने बताया कि विज्ञान के प्रति ललक बढ़ाने का काम उनके पिता ने किया, जो शरीफ यूनिवर्सिटी में भौतिकी के प्रोफेसर थे। तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद विज्ञान के प्रति अपना जुनून नहीं खोया और शादी के बाद भी पढ़ाई जारी रखी। शादी के बाद ही उन्होंने मास्टर डिग्री की।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You