शरीफ की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, JIT ने कसा शिकंजा

  • शरीफ की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, JIT ने कसा शिकंजा
You Are HereInternational
Sunday, July 16, 2017-1:41 PM

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पीएम नवाज शरीफ की मुश्किलें कम होने की बजाय बढ़ती चली जा रही हैं।

दरअसल पनामा मामले में नवाज शरीफ पर लगे आरोपों की जांच कर रही ज्वॉइंट इंवेसटिगेशन टीम (JIT) ने 15 मामलों को फिर से खोलने की सिफारिश की है। बता दें कि इन मामलों में 5 केस पर लाहौर हाई कोर्ट पहले ही फैसला सुना चुकी है जबकि 8 में पाक पीएम के खिलाफ जांच और 2 में सिर्फ पूछताछ हुई है।


1994 से लेकर अब तक ये मामले
पाकिस्तानी अखबार 'द डॉन' के मुताबिक, इन 15 मामलों में तीन 1994 से 2011 के बीच के पीपीपी के कार्यकाल के हैं जबकि 12 मामले जनरल परवेज मुशर्रफ के समय के हैं जब शरीफ का तख्तापलट कर जनरल ने अक्टूबर 1999 में कमान संभाल ली थी। इनमें शरीफ परिवार से जुड़ा 18 साल पुराना लंदन में प्रॉपर्टी मामला भी शामिल है। इसकी शुरुआत पाकिस्तान की नेशनल एकॉउंटबिलिटी ब्यूरो (NAB) ने की थी। इसी साल अप्रैल में पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने जेआईटी को लंदन में फ्लैट से जुड़े मामले की जांच करने को कहा था।

जेआईटी की रिपोर्ट में कहा गया है कि इनमें से कई मामलों की विस्तृत जांच के बिना ही उसे बंद कर दिया गया। शरीफ परिवार पर धन जुटाने के मामले में जेआईटी ने कहा है कि आरोपियों के खिलाफ कई सबूत मौजूद हैं। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You