गौरों को सताने लगा मोटापा, ब्रिटेन में चुनावी मुद्दा बना बर्गर

  • गौरों को सताने लगा मोटापा, ब्रिटेन में चुनावी मुद्दा बना बर्गर
You Are HereInternational
Saturday, May 13, 2017-1:18 PM

लंदनः भरत समेत अन्य देशों को मोटापे को डर इस कदर सता रहा है कि ब्रिटेन में होने वाले इस आम चुनाव में जंक फूड भी चुनावी मुद्दा बन गया है। दरअसल, लेबर पार्टी की सरकार ने जंक फूड की एड पर बैन लगाने का फैसला किया है।


लेबर पार्टी के वरिष्ठ नेता जेरेमी कोर्बिन ने ट्वीट के जरिए अपने चुनावी मेनिफेस्टो की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ये फैसला चिल्ड्रन हेल्थ बिल का एक जरूरी हिस्सा होगा। स्वास्थ्य सचिव, जोनाथन एशवर्थ ने कहा कि लेबर पार्टी अगली पीढ़ी को ‘सेहतमंद जिंदगी देना चाहती है ।’ इस बिल के मसौदे में कहा गया है बच्चों में बढ़ रही मोटापे की समस्या को देखते हुए लेबर पार्टी 9 बजे से पहले दिखाए जाने वाले टीवी शो जैसे एक्स फैक्टर, ब्रिटेन्स गॉट टैलेंट से पहले जंक फूड (बर्गर, पिज्जा, नूडल्स) के एड प्रतिबंधित कर देगी। 


खासकर बच्चों के चैनल पर जंक फूड विज्ञापनों पर सख्ती ज्यादा होगी। एशवर्थ के मुताबिक जंक फूड बनाने वालों को परेशान नहीं किया जाएगा। न ही उनसे कहा जाएगा कि अपने प्रोडक्ट में फैट, शूगर या नमक की मात्रा में बदलाव करें। बच्चों की सेहत को ध्यान में रखते हुए फूड लेबल में ये जिक्र करना जरूरी होगा कि प्रोडक्ट में फैट कंटेंट कितना है । सिर्फ टीवी विज्ञापन से जुड़े नियमों में बदलाव किया जाएगा। पार्टी का दावा है कि इस पहल से बच्चे जंक फूड के एड 82% तक कम देख पाएंगे। इस अभियान के लिए हर साल 1750 करोड़ रुपए का पैकेज रखा जाएगा। इसके साथ ही देशभर के प्राइमरी और सेकेंडरी स्कूलों में काउंसिलिंग के लिए नर्सों की नियुक्ति की जाएगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You