अमरीकी प्रतिनिधि सभा में भारत-एशिया प्रशांत क्षेत्र को लेकर विषेश निर्देश

  • अमरीकी प्रतिनिधि सभा में भारत-एशिया प्रशांत क्षेत्र को लेकर विषेश निर्देश
You Are HereInternational
Saturday, July 15, 2017-4:57 PM

वाशिंगटनः अमरीकी प्रतिनिधि सभा ने भारत-एशिया प्रशांत क्षेत्र में चीन के आक्रमक रुख के बीच कहा है कि अमरीका को इस क्षेत्र में आक्रमक गतिविधियों को रोकने के लिए सैन्य क्षमता बनाए रखनी चाहिए। प्रतिनिधि सभा ने वार्षिकरक्षा बजट को मंजूरी देते हुए कहा कि भारत-एशिया प्रशांत क्षेत्र की स्थिरता एवं सुरक्षा बनाए रखने में अमरीका का राष्ट्रीय हित है।

नैशनल डिफैंस ऑथोराइजेशन एक्ट एनडीएए 2018 में कहा गया है कि अमरीका को आक्रमक गतिविधियों को रोकने एवं क्षेत्रीय खतरों पर कार्रवाई करने के लिए सैन्य क्षमता बरकरार रखनी चाहिए । इसमें बलों को पुनर्गठित करने के प्रयास जारी रखने, अधिक संसाधन मुहैया कराने और क्षेत्र में निवेश बढ़ाने की अपील की गई है क्योंकि यह क्षेत्र में मजबूत अमरीकी प्रतिबद्धता को बनाए रखने के लिए है।

इसमें निर्देश दिया गया है कि रक्षा मंत्री सामरिक योजना तैयार करें, इसे अगले साल की शुरूआत में कांग्रेस के पास जमा कराएं और अमेरिका प्रशांत रख एवं तैनाती योजनाओं और जटिल स्थितियों में कार्रवाई करने की क्षमता का मूल्यांकन करें। अमेरिका ने बलों के पुनर्मूल्यांकन एवं पुनर्गठन की अपील ऐसे समय में की है जब चीन विवादित दक्षिण चीन सागर क्षेत्र में आक्रमकता लगातार बढ़ा रहा है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You