एड्स पीड़ित ने 100 से ज़्यादा लड़कियों के साथ किया एेसा काम, अब भुगतेगा सजा

  • एड्स पीड़ित ने 100 से ज़्यादा लड़कियों के साथ किया एेसा काम, अब भुगतेगा सजा
You Are HereInternational News
Saturday, November 19, 2016-5:01 PM

मलावीः मलावी के एक एड्स पीड़ित नागरिक को 104 लड़कियों और महिलाओं के साथ असुरक्षित सैक्स करने के मामले में दोषी ठहराया गया है।  एरिक अनिवा परंपरा के नाम पर कम उम्र की लड़कियों और विधावाओं से सैक्स करता था। मलावी के आदिवासी समुदाय में विधवाओं को शुद्धीकरण के लिए 'हायना' के साथ सैक्स करना अनिवार्य था।  मलावी में सैक्स वर्कर को 'हायना' कहा जाता है।

एरिक अनिवा एक हायना था। हालांकि कुछ साल पहले मलावी में 'विधवाओं के शुद्धीकरण के लिए सैक्स' करने की बाध्यता को ग़ैरक़ानूनी कर दिया गया था। 
एरिक ने स्वीकार किया था कि उसने 100 से ज़्यादा नाबालिग लड़कियों और महिलाओं के साथ सैक्स किया है। उसने यह भी कबूल किया था कि सैक्स के दौरान एच.आई.वी. पॉज़िटिव होने की जानकारी उसने उन लड़कियों को नहीं दी थी। 

इस इंटरव्यू के बाद इसी साल जुलाई महीने में मलावी के राष्ट्रपति ने एरिक की गिरफ़्तारी का आदेश दिया था। मलावी के राष्ट्रपति पीटर मुथारिका चाहते थे कि एरिक पर नाबालिगों को अवपित्र करने का मामला चले लेकिन इस मामले में किसी ने सामने की हिम्मत नहीं जुटाई थी। इसके बाद अनिवा को संस्कृति  दूषित करने वाली हरकत के मामले में पकड़ा गया।  उस पर विधवा महिलाओं से सैक्स करने को लेकर मलावी के लैंगिक समानता क़ानून के तहत में मामला दर्ज किया गया था।  इस मामले में 2 महिलाओं ने उसके ख़िलाफ़ गवाही दी थी। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You