पीएम मोदी फिर करेगें काले धन पर सर्जिकल स्ट्राइक

  • पीएम मोदी फिर करेगें काले धन पर सर्जिकल स्ट्राइक
You Are HereInternational News
Sunday, November 13, 2016-12:22 AM

कोबे (जापान): काले धन पर अंकुश लगाने के मकसद से 500 और 1000 रुपए के नोट बैन करने के फैसले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार इस मुद्दे पर लोगों के सामने अपनी बात रखी।  इस दौरान प्रधानमंत्री ने काले धन को बाहर निकालने के लिए और कदम उठाने का संकेत दिया। उन्होंने कहा कि जिन लोगों के पास बेहिसाब धन है, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा और इस बात की कोई 'गारंटी' नहीं है कि 30 दिसंबर के बाद और कदम नहीं उठाए जाएंगे। सरकार ने लोगों को पुराने नोट जमा कराने के लिए 30 दिसंबर तक का ही समय दिया है।


PunjabKesari
जापान में भारतीय समुदाय द्वारा आयोजित स्वागत समारोह में  मोदी ने कहा, 'मैं एक बार फिर यह घोषणा करना चाहूंगा कि इस योजना के बंद होने के बाद इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि कालाधन रखने वालों को ठिकाने लगाने के लिए (दंड देने के लिए) कोई नया कदम नहीं उठाया जाएगा।'  नोटबंदी के इस फैसले के बाद नकदी की किल्लत होने की वजह से लोगों में बढ़ते गुस्से के बीच पीएम मोदी ने साफ किया कि सरकार ने यह फैसला काले धन की सफाई के लिए लिया है, किसी को तकलीफ देने के लिए नहीं।

उन्होंने 500 और एक हजार रुपए ने नोट को प्रचलन से हटाने के बाद की परेशानियों का जिक्र किया और 125 करोड़ भारतीयों के जज्बे को सलाम किया। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने जापान दौरे के अंतिम दिन भारतीयों को संबोधित करते कहा कि यहां आए बिना यदि आपसे मिले बिना चला जाता तो यह ठीक नहीं होता।उन्होंने यह भी कहा कि आज दुनिया में भारत सबसे तेजी से उभरती हुई अर्थव्यवस्था में शुमार किया जाता हैै। यहां पर उन्होंने अपने संबोधन में एफडीआई के मायने 'फर्स्ट डिवैलप इंडिया' बताया। उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार देश के इमानदार नागरिकों के हितों की रक्षा के लिए हर संभव कदम उठाएगी। 

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You