गैर मुस्लिमों की सुरक्षा के लिए आगे आई म्यांमार पुलिस

  • गैर मुस्लिमों की सुरक्षा के लिए आगे आई म्यांमार पुलिस
You Are HereInternational News
Thursday, November 03, 2016-10:49 AM

सितवे: म्यांमार पुलिस अशांत रखिन प्रांत के उत्तर में रोहिंग्या मुस्लिम समुदाय के चरमपंथियों से बढ़ते खतरे के मद्देनजर गैर मुस्लिम निवासियों को हथियार और प्रशिक्षण देगी। मानवाधिकार पर्यवेक्षकों का कहना है कि पुलिस के इस कदम से इस क्षेत्र में अंतर सामुदायिक तनाव बढ़ सकता है। इस क्षेत्र में वर्ष 2012 में मुस्लिम और जातीय रखिन बौद्धों के बीच हुए खूनी संघर्ष में सैकड़ों लोग मारे गए थे।  

बंगलादेश के साथ लगती म्यांमार के सीमावर्ती इलाके मौंगदॉ इलाके में बड़ी तादाद में सैनिक तैनात हैं ताकि 9 अक्टूबर को तीन सीमा चौकियों पर हुए हमलों का जवाब दिया जा सकें। इस हमले में 9 पुलिसकर्मी मारे गए थे। रोहिंग्या मुस्लिमों की बहुसंख्या वाले इस इलाके को सुरक्षाबलों ने घेर लिया है। आधिकारिक रिपोर्टों के अनुसार 5 सैनिक और 33 कथित चरमपंथी मारे गए है।म्यांमार की नेता आंग सान सू की ने सुरक्षाबलों से संयम बरतने और कानून के दायरे में कार्रवाई करने का अनुरोध किया है लेकिन स्थानीय निवासियों का आरोप है कि लोगों की हत्याएं की गई, बलात्कार किए गए, मनमाने ढंग से हिरासत में लिए गए और मकानों को ढ़हा दिया गया। हालांकि सरकार ने इन आरोपों से इंकार किया है।  


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You