32 साल पहले सुर्खियों में आई अफगान गर्ल फिर चर्चा में, किया ये कांड

You Are HerePakistan
Wednesday, October 26, 2016-3:55 PM

इस्लामाबाद: करीब 32 साल पहले पेशावर के नसीर बाग शरणार्थी कैंप में एक लड़की मिली, जिस पर आमतौर का किसी का ध्यान नहीं जाता था। लेकिन नैशनल ज्योग्राफिक के फोटोग्राफर स्टीव मैककरी द्वारा ली गई फोटो से वो दुनियाभर में मशहूर हो गई। उस लड़की का नाम था शरबत बीवी, जिसे दुनिया अफगान गर्ल के नाम से जानने लगी थी।

32 साल पहले भी वो सुर्खियों में थी, और आज एक बार फिर वो सुर्खियों में है। लेकिन उसकी वजह शरबत बीवी की कोई तस्वीर नहीं है, बल्कि उसके ऊपर धोखाधड़ी के जरिए नेशनल आइडेंटिटी कार्ड हासिल करने का है। पाकिस्तान की फेडरल इंवेस्टिगेटिंग एजेंसी ने अफगान गर्ल को गिरफ्तार किया है।शरबत पर आरोप है कि उसने न केवल फ्राड करके कंप्यूटराइज्ड नेशनल आइडेंटिटी कार्ड हासिल किया बल्कि उसके पास के अफगानिस्तान और पाकिस्तान दोनों देशों के पहचान पत्र हैं।

शरबत बीबी पर पाकिस्तान पीनल कोड 419, 420 और सेक्शन 5(2) के तहत आरोप लगाए गए हैं। एफआइए अधिकारियों के मुताबिक जिस शख्स ने कार्ड जारी किया था वो मौजूदा समय में कस्टम विभाग में डिप्टी कमिश्नर के पद पर तैनात है और फिलहाल जमानत पर है।

पिछले साल नाड्रा ने शरबत बीबी और उनके बच्चों समेत 3 लोगों को सीएनआइसी जारी किया था। शरबत बीबी ने जिन दो लोगों के कार्ड हासिल किए उन्हें अपना बेटा बताया था। लेकिन नाड्रा के विजिलेंस विभाग और एफआइए ने पाया कि शरबत ने फॉर्म में जो जानकारी दी थी वो गलत थी। शरबत बीबी ने फार्म में 2 बच्चों का जिक्र किया था जबकि शरबत बीबी को 2 लड़कियां और एक अढ़ाई साल का बेटा है।


वीडियो देखने के लिए क्लिक करें

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You