उ.कोरिया ने किया इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइलों का प्रदर्शन

  • उ.कोरिया ने किया इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइलों का प्रदर्शन
You Are HereInternational
Saturday, April 15, 2017-11:20 AM

प्योंगयांग: उत्तर कोरिया की परमाणु महत्वाकांक्षाओं के चलते बढ़ते तनाव के बीच किम जोंग-उन ने आज शक्ति प्रदर्शन के लिए निकाली गई परेड का निरीक्षण किया और कदम ताल करते हुए सैनिकों को सलाम किया। सैनिकों के साथ-साथ टैंकों और अन्य सैन्य उपकरणों को भी परेड में शामिल किया गया था। सरकारी टेलिविजन के सीधे प्रसारण में दिखाया गया कि ऑनर गार्ड का निरीक्षण करने के बाद किम ने सेना और पार्टी के शीर्ष नेताआेें के साथ किम द्वितीय-संग चौराहे पर चल रही परेड को देखा। किम काला सूट पहने हुए थे। शहर के बीचोबीच से होकर गुजरती इस परेड में महिला सैनिक भी शामिल थीं। 


उत्तर कोरिया के संस्थापक की105वीं जयंती के मौके पर परेड
टीवी पर लाइव प्रसारण में एक पुरूष ने वॉयसआेवर में कहा,‘‘आज की परेड हमारी शक्तिशाली सैन्य शक्ति को प्रदर्शित करने का मौका प्रदान करेगी।’’ यह परेड किम के दादा और उत्तर कोरिया के संस्थापक किम द्वितीय-संग की 105वीं जयंती के अवसर पर निकाली गई। इस दिन को उत्तर कोरिया में ‘सूर्य दिवस’ के रूप में जाना जाता है। लेकिन इस परेड का उद्देश्य वाशिंगटन को अलग-थलग पड़े और परमाणु क्षमता से संपन्न उत्तर कोरिया के सैन्य बल का स्पष्ट संदेश देना भी था। किम ने इस मौके पर रैली को संबोधित नहीं किया बल्कि उनके निकट सहयोगी चो रयोंग-हे ने एक चुनौतीपूर्ण भाषण दिया। उन्होंने भाषण में कहा कि प्योंगयांग किसी भी उकसावे पर प्रतिक्रिया देगा, फिर चाहे वह परमाणु संबंधी उकसावा हो या कोई और।चो ने कहा, ‘‘हम लोग आर-पार वाले किसी भी युद्ध का जवाब आर-पार के युद्ध से देने के लिए तैयार हैं और हम अपने तरीके से किसी भी परमाणु हमले का जवाब परमाणु हमले से देने को तैयार हैं। 


उत्तर कोरिया कर सकता है छठा परमाणु परीक्षण 
ऊधर दक्षिण कोरिया ने कहा है कि उत्तर कोरिया की सैन्य परेड में जिन मिसाइलों का प्रदर्शन किया गया है उनमे इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइलों (आईसीबीएम) के नए प्रकार भी शामिल है। उत्तर कोरिया ने पहली बार अपनी पनडुब्बी-प्रक्षेपित बैलिस्टिक मिसाइल(एसएलबीएम) का प्रदर्शन किया है। यह प्रदर्शन उत्तर कोरिया के संस्थापक किम इल सुंग की 105वीं जयंती के मौके पर किया गया है। मिसाइलों के प्रदर्शन से ऐसी आशंकाओं को फिर बल मिला है कि उत्तर कोरिया छठा परमाणु परीक्षण कर सकता है। गौरतलब है कि अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया की ओर से संभावित छठे परमाणु परीक्षण की अटकलों के बीच कहा था कि प्योंगयांग एक समस्या है जिस पर ध्यान रखा जाएगा । इस पर उत्तर कोरिया ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You