पाकिस्तानियों ने इस्लाम को बदनाम किया:  मलाला

  • पाकिस्तानियों ने इस्लाम को बदनाम किया:  मलाला
You Are HereInternational
Saturday, April 15, 2017-4:43 PM

पेशावर: नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई ने पाकिस्तान के एक विश्वविधालय में ईश-निंदा के चलते छात्र की मौत पर विरोध जताते हुए कहा दुनिया में पाकिस्तान की खराब इमेज के लिए स्थानीय लोगों को ही जिम्मेदार ठहराया है।

मलाला ने जारी किया वीडियो संदेश
मलाला ने एक वीडियो संदेश जारी करते हुए कहा कि कोई हमारे देश और धर्म को बदनाम नहीं कर रहा है। यह काम हम लोग खुद ही कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 'आज हम इस्लामफोबिया की बात करते हैं साथ ही यह भी कहते हैं कि लोग हमारे देश और धर्म को गलत नाम दे रहे हैं जबकि सच तो यह है कि दुनियाभर में पाकिस्तान और इस्लाम की खराब छवि के लिए कोई और नहीं बल्कि स्वयं पाकिस्तानी जिम्मेदार हैं। उन्होंने ने कहा कि पाकिस्तानियों को अपने धर्म का ध्यान से अध्ययन करना चाहिए, क्योंकि यह शांति और सहिष्णुता का संदेश देता है। हर पाकिस्तानी का अधिकार है कि वह शांति और सुरक्षा के साथ अपनी जिंदगी बिताए, अगर ऐसी हत्याएं होतीं रहीं तो कोई भी सुरक्षित नहीं रहेगा। 

ईशनिंदा के आरोप में छात्र की हत्‍या
आपको बतां दें कि पाकिस्तान के एक जानेमाने विश्वविद्यालय में पत्रकारिता की पढ़ाई करने वाले छात्र की ईशनिंदा के कथित मामले को लेकर उसी संस्थान के छात्रों के एक समूह ने निर्मम हत्या कर दी। डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, मरदान के अब्‍दुल वली खान यूनिवर्सिटी में पढऩे वाले छात्र पर ईश्‍वर की निंदा करती पोस्‍ट सोशल मीडिया पर डालने का आरोप था। घटना सामने आने के बाद से विश्‍वविद्यालय परिसर को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है और कम से कम 10 लोगों को हिरासत में लिया गया है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You