ईराक में IS के सफाए में PAK का भी हाथ

  • ईराक में IS के सफाए में PAK का भी हाथ
You Are HereInternational
Saturday, July 15, 2017-3:49 PM

इस्लामाबाद: ईराक ने कहा है कि मोसुल में आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान की मदद से आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट(आईएस)को खदेड़ने में सहायता मिली है। आतंकवादियों के खिलाफ पिछले तीन साल से जारी लड़ाई के बाद आईएस से मोसुल को मुक्त कराया गया है।  


पाकिस्तान में ईराक के राजदूत अली यासीन मोहम्मद करीम ने आज यहां दूतावास में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पाकिस्तान का नाम भी उन देशों में शामिल है जिन्होंने ईराक में आईएस के खिलाफ लड़ाई में सहायता की है। 


ईराक में आईएस के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान की भूमिका के बारे में इससे पहले पाकिस्तानी अधिकारियों अथवा ईराकी अधिकारियों ने पुष्टि नहीं की थी। करीम ने कहा कि पाकिस्तान की ओर से ईराक को आतंकवादियों के बारे में खुफिया जानकारी के अलावा हथियारों तथा गोला बारुद तथा चिकित्सकीय सहायता मुहैया कराई गई थी। उन्होंने कहा कि कुछ ईराकी पायलटों को पाकिस्तान में प्रशिक्षण दिया गया जिन्होंने आईएस के खिलाफ हवाई हमलों में हिस्सा लिया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और ईराक दोनों के लिए आईएस समान रूप से दुश्मन हैं। गौरतलब है कि मोसुल ईराक का दूसरा सबसे बड़ा शहर है जो पिछले 3 साल से आईएस के कब्जे में था।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You