कुलभूषण मामले में  PAK ने चली नई चाल

  • कुलभूषण मामले में  PAK ने चली नई चाल
You Are HereInternational
Tuesday, April 18, 2017-12:24 PM

इस्लामाबादः भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव को लेकर पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज आने का नाम नहीं ले रहा है। उसने जाधव मसले पर फिर से नई चाल चली है। अब उसने ईरान से जाधव के बारे जानकारी मांगी है।  पाकिस्तानी अखबार द न्यूज ने पाक विदेश विभाग के प्रवक्ता नफीस जकारिया के हवाले से बताया कि ईरान से जाधव की गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी मांगी गई है। हालांकि अभी तक ईरान या उसकी खुफिया एजैंसियों की ओर से इस बाबत कोई जानकारी नहीं दी गई है।

जकारिया ने कहा कि पाकिस्तान में जासूसी और आतंकवाद के आरोप में जाधव को फांसी की सजा सुनाई गई है। उन्होंने दावा किया कि जाधव को पाकिस्तान के कानून के तहत सजा सुनाई गई है। साथ ही जाधव के खिलाफ आगे भी कार्रवाई की जाएगी।हालांकि भारत सख्त लहजे में पाकिस्तान को चेता चुका है कि अगर उसने जाधव को फांसी देने की जुर्रत की, तो उसको इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। जाधव से भारतीय राजनयिक की मुलाकात के प्रस्ताव को भी पाकिस्तान 14 बार खारिज कर चुका है।

पाकिस्तानका दावा है कि कुलभूषण जाधव ने कुबूल किया था कि वह भारतीय खुफिया एजैंसी रॉ के लिए काम करते हैं और बलूचिस्तान में तैनात था। उनके अनुसार जाधव भारतीय नौसेना के सर्विंग अफसर हैं और इन्हें सीधे तौर पर रॉ चीफ हैंडल करते हैं। पाकिस्तान का दावा था कि वह 2022 में रिटायर होंगे। विदेश मंत्रालय के मुताबिक जाधव कानूनी तौर पर ईरान में अपना व्यापार करते थे।उनको ईरान से पहुंचने के बाद कथित तौर पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत के चमान इलाके से गिरफ्तार किया था। चमान अफगानिस्तान की सीमा से सटा है। उनको हिरासत में परेशान किया गया। 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You