हैरान कर देंगी दुनिया की सबसे खतरनाक पनडुब्बी की खासियतें

You Are HereInternational
Sunday, July 16, 2017-5:41 PM

मॉस्कोः रूस ने अब तक की अपनी सबसे खतरनाक 'न्यूक्लियर पनडुब्बी' समुद्र में उतार दी है। यह पनडुब्बी 1500 मील तकरीबन 2500 किमी के टारगेट को भेद सकती है।  यह रूस कि 'कजान न्यूक्लियर पनडुब्बी' का फोर्थ वर्जन है जिस पर 2009 से काम चल रहा था और अब इसे नॉर्दन रशिया के सेवेरोविंक्स शिपयार्ड से समुंद्र में उतारा गया है।
PunjabKesari
यह पनडुब्बी 70 से 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ सकती है। इसके अलावा आर्मी का हेड ऑफिस इसके बीचों बीच बनाया गया है यहां से जवान हर दिशा में नजर रख सकते है। इसमें एक बार में 24 'ओनिक्स' मिसाइल तैनात की जा सकती है मिसाइल के आठ हिस्सों पर तीन-तीन मिसाइलें लगाई जा सकती हैं जिससे एक बार में ही हर दिशा में मिसाइलें दागी जा सकें।
PunjabKesari
न्यूक्लियर पनडुब्बी में दो ही न्यूक्लियर रिएक्टर होते है लेकिन इसमें एक ही रिएक्टर लगा हुआ है इससे समुंद्र के अंदर इसके चलने की आवाज भी बहुत कम होगी। रुसी सैन्य विज्ञान अकादमी के प्रोफेसर वदीम कज्यूलिन के मुताबिक, इसे तैयार करने से पहले अब तक की सभी पनडुब्बी की कमजोरियां और उनकी ताकत का आंकलन किया गया था।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You