सीरिया को नहीं ट्रंप की बातों पर भरोसा

  • सीरिया को नहीं ट्रंप की बातों पर भरोसा
You Are HereInternational News
Wednesday, November 16, 2016-12:11 PM

सीरियाः ट्रंप के निर्वाचित होने के बाद दिए अपने पहले इंटरव्यू में असद ने कहा कि वह इस बात को लेकर अभी संशय में हैं कि एक उद्योगपति से अमरीका के राष्ट्रपति बने ट्रंप अपने शब्दों पर कायम रह सकेंगे और जिहादियों के खिलाफ लड़ेंगे।

उन्होंने कहा कि वह फिलहाल इसको लेकर अभी कुछ नहीं कह सकते हैंं कि आगे क्या होगा। उन्होंने कहा कि यदि वह आतंकवाद से लड़ना चाहते हैं तो सीरिया उनका साथ देने के लिए तैयार है। इसके लिए वह खुद ही नहीं बल्कि रूस समेत ईरान भी उनका सहयोग देने के लिए तैयार होगा। उन्होंने यह इंटरव्यू पुर्तगाल एक सरकारी चैनल आर.टी.पी. को दिया था।

चुनाव में ट्रंप की जीत पर पूछे   सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अब  अमरीका को आई.एस. के आतंकियों के खिलाफ अपनी लड़ाई तेज करनी चाहिए। उनके इस कदम का पूरी दुनिया स्वागत करेगी, लेकिन इसको बेहद सावधानी से अंजाम देना होगा। उन्होंने ऐसा करने का वादा किया लेकिन इसमें वह कितना खरा उतरेंगे इसको लेकर उनके मन में संशय है।

असद  इस दौरान तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप इर्दोगन पर भी जमकर बरसे। उन्होंने इर्दोगन को एक बीमार इंसान तक बताया। उन्होंने कहा कि वह सच्चाई से काफी दूर हैं। उन्होंने कहा कि वह सीरिया में आईएस के नाम पर हमले कर रहा है। उन्होंंने इस मौके पर तुर्की के मिलिशिया को अपनी कार्रवाई रोकने को भी कहा । वर्ष 2011 से छिड़ी सीरिया की लड़ाई में अब तक 3 लाख से अधिक लोग मारे जा चुके हैं।

 
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You