Subscribe Now!

अपने बच्चों को जंजीरों से बांधने वाले आरोपी दंपत्ति ने कहा- वे बेकसूर हैं

You Are HereInternational
Friday, January 19, 2018-1:18 PM

इंटरनेशनल डेस्क: कैलिफॉर्निया के एक उपनगरीय इलाके के एक घर में कुपोषण के शिकार अपने 13 बच्चों को बंधक बनाकर रखने वाले दंपति पर बच्चों के उत्पीडऩ का मामला दर्ज किया गया है। हालांकि दोनों ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि वे बेकसूर हैं । अभियोजन पक्ष के वकीलों ने बताया कि आरोपियों ने बच्चों को जंजीरों से बांधकर रखा हुआ था और उन्हे प्रताड़ित करते थे। 57 साल के डेविड एलेन र्टिपन और उसकी पत्नी लुई ऐना र्टिपन (49) पर प्रताड़ना, दुर्व्यवहार और बच्चों का उत्पीडऩ करने के आरोप में कई मामले दर्ज किए हैं। 
PunjabKesari
इस घटना का खुलासा तब हुआ जब इस दंपती की 17 वर्षीय बेटी किसी तरह उनके चंगुल से भाग निकली और आपात सहायता के लिए फोन किया। सूचना के बाद शेरिफ कार्यालय के कर्मचारी दंपती के घर पहुंचे जहां बदबूदार घर में गंदगी के बीच बच्चों को जंजीरों से बंधा हुआ था। सहायता के लिए फोन करने वाली 17 वर्षीय लड़की इतनी कमजोर थी कि अधिकारियों को वह छोटी बच्ची लगी। अन्य बच्चों का भी यही हाल नजर आया लेकिन यह पता चलने पर अधिकारी हैरान रह गए कि सभी 13 बच्चों की उम्र 18 से 29 साल के बीच है। इन सभी की चिकित्सकीय जांच की जा रही है और कुपोषण के लिए उनका इलाज किया जा रहा है।
PunjabKesari
डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी माइक हेस्ट्रिन ने बताया कि बच्चों को अक्सर पीटा जाता था उन्हे साल में सिर्फ एक बार नहाने दिया जाता था। उन्होंने बताया कि बच्चों को पूरी रात जगाकर रखा जाता था और पूरा दिन सोने के लिए कहा जाता था। प्रताड़ित करने के लिए उन्हें दिन में सिर्फ एक वक्त का खाना दिया जाता था। हेस्ट्रिन ने बताया कि दोनों की जमानत के लिए 1.3 -1.3 करोड़ डॉलर का मुचलका तय किया गया है। सभी आरोपों के लिए दोष सिद्ध होने पर उन्हें 94 साल से ले कर उम्र कैद तक की सजा हो सकती है। र्टिनप दंपति को रविवार को गिरफ्तार किया गया था। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You