ट्रंप पर भारी पड़ सकता हैं हिलेरी का अनुभव

  • ट्रंप पर भारी पड़ सकता हैं हिलेरी का अनुभव
You Are HereAmerica
Saturday, November 05, 2016-6:08 PM

वॉशिंगटन: अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव में महज कुछ दिन बाकी है और इस चुनाव पर हो रहे हालिया सर्वेक्षणों में हिलेरी क्लिंटन डोनाल्ड ट्रंप पर भारी पड़ती नजर आ रही हैं।आइए इन दोनों उम्मीदवारों के जीवन, राजनीतिक सफर, ताकत, कमजोरी और मुद्दों पर नजर डालते हैं।


हिलेरी की ताकत और कमजोरी
हिलेरी क्लिंटन की बात करें तो उन्हें 1964 से राजनीति का 52 साल का अनुभव है।हिलेरी ने विदेश मंत्री और प्रथम महिला की जिम्मेदारी सफलतापूर्वक संभाली। 2000 में पहली बार वह सीनेटर बनीं।इतना ही नहीं हिलेरी वकील और शिक्षिका भी रही हैं।लेकिन हिलेरी पर लगे कई आरोप उनके लिए मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं।जैसे राजनीतिक ताकत का इस्तेमाल कर क्लिंटन फाउंडेशन के लिए फंड इक्ट्ठा करना,पति और पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन पर यौन उत्पीड़न का आरोप, विदेश मंत्री रहने के दौरान अपने निजी सर्वर से हजारों अतिसंवेदनशील ईमेल भेजने जैसे आरोपों से घिरी हैं।


ट्रंप की ताकत और कमजोरी
ट्रंप की बात करें तो एक सफल बिजनसमैन के तौर पर उन्होंने काफी सफलता हासिल की और उनके समर्थकों के मुताबिक उनकी अर्थव्यवस्था पर मजबूत पकड़ है और वे नौकरियां पैदा करना जानते हैं। अमरीका के 156वें सबसे अमीर व्यक्ति ट्रंप के पास 26 हजार करोड़ रुपए का कारोबार है।लेकिन ट्रंप पर लगे आरोप उनके लिए मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं जैसे चुनाव से पहले हाल ही में 18 महिलाओं ने उन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया हैं। ट्रंप को अल्पसंख्यक और महिला विरोधी माना जाता है और उनके विवादित बयानों के कारण और मुस्लिम विरोधी बयानों के कारण लोग उनके खिलाफ हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You