लंगर लगाने वाले दानी लोगों से मोटी फीस की डिमांड कर रहा प्रशासन : मन्हास

administration to demanding more fees from donors
Monday, June 19, 2017, 11:56 AM

जम्मू : प्रशासन पर श्री अमरनाथ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं को उचित सुविधाएं देने की बजाय लूट-खसूट किए जाने का आरोप लगाते हुए हिन्दू शिव सेना के प्रधान कृष्ण सिंह मन्हास ने कहा कि श्रद्धालुओं के लिए लगाए जाने वाले लंगरों के लिए प्रशासन द्वारा दानी लोगों से मोटी फीस की डिमांड की जा रही है। मन्हास का कहना है कि इसका शिव सेना कड़ा विरोध करती है और अगर प्रशासन ने यात्रा को लेकर अपना रवैया नहीं बदला तो वह आंदोलन का रास्ता अपनाने को विवश हो जाएंगे। 

 


उनका आरोप है कि वर्ष 2016 की अमरनाथ यात्रा के दौरान लंगर लगाने वाली संस्थाओं से प्रशासन ने 20,000 रुपए सिक्योरिटी के नाम पर लिए थे और उनसे वायदा किया था कि यात्रा खत्म हो जाने के बाद उन्हें यह रकम वापस दे दी जाएगी। उनका आरोप है कि यात्रा खत्म होने के बाद जब संबंधित संस्थाओं ने अपने पैसे वापस मांगे तो अधिकारियों का कहना था कि पैसे उनके रैडक्रास फंड में चले गए हैं। उनका कहना है कि इस वर्ष भी लंगर लगाने वाली संस्थाओं से 25,000 रुपए फीस मांगी जा रही है। 

 


मन्हास का आरोप है कि जब प्रशासन श्रद्धालुओं को सुविधाएं नहीं दे सकता तो वह  लोगों से मिल रही सुविधाओं के रास्ते में रुकावट क्यों पैदा कर रहा है। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि लंगर लगाने वाली संस्थाओं को किसी भी प्रकार की असुविधा हुई तो वह प्रदर्शन का रास्ता अपनाने को विवश हो जाएंगे।

FacebookTwitterg+Mail