लोगों का फूटा गुस्सा, लाइसेंस है तो क्या हुआ-यहां नहीं खुलेगा ठेका

  • लोगों का फूटा गुस्सा, लाइसेंस है तो क्या हुआ-यहां नहीं खुलेगा ठेका
You Are HereJammu Kashmir
Friday, April 21, 2017-4:06 PM

चंडीगढ़:  'लाइसेंस है तो क्या हुआ लेकिन यहां ठेका नहीं खुलेगा तो नहीं खुलेगा' कुछ ऐसा कहना है सकेतड़ी के लोगों का। वीरवार को सुखना-सकेतड़ी मार्ग पर खोले गए शराब के ठेके को स्थानिय लोगों ने जबरन बंद करवा दिया। मौके पर पहुंची पुलिस व अन्य अधिकारियों ने लोगों को शांत करावा। ठेका बंद करवाने के लिए ज्यादातर महिलाएं विरोध कर रही थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पहले यह कहा कि ठेका संचालक के पास लाइसेंस है लेकिन लोग नहीं माने, तनाव बढ़ते देख कर पुलिस को ठेका बंद करवाना पड़ा। 

वीरवार को सकेतड़ी में शाम के समय महिलाएं और युवा शराब के ठेके के बाहर पहुंचे। उन्होंने प्रशासन के विरुद्ध जमकर प्रदर्शन किया। लोगों का आरोप था कि जिला प्रशासन आंख मूंद कर कहीं भी ठेका अलॉट कर रहा है, जिससे स्थानिय लोगों को परेशानियों का समाना करना पड़ रहा है। महिलाओं ने बताया कि सुखना लेक का मुख्य मार्ग सकेतड़ी निवासियों का चंडीगढ़ जाने के लिए इकलौता रास्ता है। इस रास्ते से स्कूली बच्चे व युवतियां चंडीगढ़ संस्थानों में जाते हैं। ऐसे में ठेके पर पियक्कड़ों की भीड़ से युवतियों व बच्चों की सुरक्षा पर खतरा बना रहता है। 
लोगों के प्रदर्शन को देखते हुए एम.डी.सी. थाना पुलिस मौके पर पहुंची और ये कहते हुए प्रदर्शकारी महिलाओं को शांत कराया कि वे अधिकारियों के समक्ष अपनी बात रख कर ज्ञापन दे सकते हैं। वहीं पुलिस का कहना है कि शराब के ठेके के संचालक के पास लाइसेंस है, लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं थे।

सकेतड़ी-पंचकूला बार्डर पर सबकी नजऱ
सुप्रीम कोर्ट की आदेश के चलते नेशनल हाइवे के 500 मीटर दायरे में शराब पर बैन लगने के बाद सुखना लेक की तरफ शराब ठेकेदारों ने रुख किया है। अब चंडीगढ़-सकेतड़ी-पंचकूला बार्डर पर सबकी नजऱ है। जिसके चलते सकेतड़ी-सुखना रोड़ पर ठेका खोला गया है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You