ज्योतिष भविष्यवाणी: सूर्य ने किया राशि परिवर्तन, बदलेगी जीवन की दशा और दिशा

You Are HereJyotish
Saturday, September 17, 2016-12:43 PM
नवग्रह के राजा सूर्यदेव शुक्रवार दिनांक 16.09.16 शाम 06 बजकर 48 मिनट पर कन्या राशि में प्रवेश कर गए हैं। पृथ्वी के वायुमंडल तथा जनजीवन पर सूर्य का सबसे अधिक प्रभाव पड़ता है। वैसे तो सूर्य को आत्मा का कारक और ग्रहों का राजा माना जाता है, परन्तु यह पाप ग्रह की श्रेणी में आता है। सूर्य के अच्छे प्रभाव से व्यक्ति का सामाजिक दायरा और प्रशासनिक क्षमता बहुत अच्छी होती है परन्तु यदि सूर्य का प्रभाव अच्छा नहीं हो तो व्यक्ति को जीवन में आगे बढ़ने में बहुत संघर्ष करना पड़ता है। कारण यह है कि सूर्य के कारण मनोबल की कमी और उच्च अधिकारियों या प्रशासन से असहयोग मिलता ही रहता है। यह अपनी स्वराशि अर्थात सिंह और अपनी उच्च राशि अर्थात मेष के अलावा बहुत अच्छा परिणाम नहीं देता है।
  
सूर्य शुक्रवार दिनांक 16.09.16 शाम 06 बजकर 48 मिनट पर बुध की राशि कन्या में प्रवेश कर गए हैं। बुध व सूर्य का संबंध सम है। जिस समय सूर्य कन्या में प्रवेश कर रहे हैं उस समय कन्या में ही नीच के शुक्र व गुरु भी विद्यमान हैं। इसी के साथ ही सूर्य के कारण गुरु अस्त हो गए हैं। सूर्य अगले एक महीने तक कन्या राशि में गोचर करेंगे। सूर्य सोमवार दिनांक 17.10.16 को प्रातः 06 बजकर 44 मिनट पर कन्या से तुला राशि में प्रवेश करेंगे। सूर्य के इस परिवर्तन से सभी राशि के जातको के जीवन में भी कुछ न कुछ परिवर्तन आएगा। इसी के साथ ही पूरे संसार पर सूर्य के राशि परिवर्तन का शुभाशुभ प्रभाव पड़ेगा। आइए जानते हैं कि सूर्य का कन्या राशि में प्रवेश द्वादश राशियों के जीवन पर क्या प्रभाव डालेगा। 
 
मेष: उच्च अधिकारियों से मतभेद होंगे। मानसिक उलझने बढ़ेंगी। संतान व पिता से मतभेद होंगे। प्रतियोगिता में कड़े परिश्रम से सफलता मिलेगी। धन का जोखिम उठाने से बचें।
 
वृष: गलत निर्णय लेने से बचें। पारिवारिक विवाद के योग हैं। संतान को स्वास्थ्य समस्या बनने के योग हैं। यात्रा में सावधानी बरतें। गर्भवती महिलाओं को कष्ट की संभावना बन रही है।
 
मिथुन: पारिवारिक सुख में कमी आएगी। वाहन से परेशानी होगी। माता का स्वास्थ्य बिगड़ेगा। व्यापार में हानि के योग हैं। अनिद्रा व बेचैनी रहेगी। तनाव से दूर रहने का प्रयास करें। 
 
कर्क: पतन की प्रवृत्ति हावी रहेगी। आत्म प्रशंसा, अति उत्साह तथा अहंकार से बचकर रहें। पराक्रम व उत्साह बढ़ा रहेगा। जन संपर्क में तेजी आएगी। जल्द ही गुड न्यूज प्राप्त होगी। 
 
सिंह: सिर, आंख व दांतों के रोग सताएंगे। धन हानि के योग हैं। आर्थिक निर्णय नुकसानदेह सिद्ध होंगे। वाणी व क्रोध पर नियंत्रण रखें। यात्रा कष्टकारी होगी। नौकरों से सावधान रहें। 
 
कन्या: मानसिक रूप से विचलित रहेंगे। शारीरिक कष्ट रहेगा। व्यर्थ का भ्रमण होगा। साझेदारों से विवाद के योग हैं। कार्य-व्यवहार में सावधान रहें। दांपत्य संबंध में कटुता आएगी। 
 
तुला: आय कम होगी। दूरगामी यात्रा के योग हैं। बुद्धिबल से शत्रु परास्त होंगे। बाहरी संबंधों से लाभ मिलेगा। उच्च अधिकारियों से संबंध बिगड़ सकते हैं। अनजान जगह जाने से बचें। 
 
वृश्चिक: पैतृक संपत्ति प्राप्ति के योग हैं। अकस्मात लाभ व हानि दोनों का ही योग है। आर्थिक निर्णय लेते समय सावधानी बरतें। संतान के कारण कुछ परेशानी पैदा हो सकती है।
 
धनु: भाग्य वश आय होने के योग हैं। पिता से विवाद भी हो सकता है, अतः सावधान रहें। माता को कष्ट के योग हैं। पारिवारिक कष्ट संभव है। निरर्थक यात्रा का योग बन रहा है। 
 
मकर: भाग्य के भरोसे न बैठें। भाग्य साथ नहीं देगा। जुआ-सट्टा से दूर रहें। भाई-बहनों से बिना वजह विवाद उत्पन्न होगा। आर्थिक हानि तथा कार्यस्थल पर परेशानी का योग है। 
 
कुंभ: वैवाहिक जीवन में कलह के संकेत हैं। जीवनसाथी का स्वास्थ्य प्रभावित होगा। वाहन दुर्घटना के योग हैं। यात्रा में सतर्क रहें। आर्थिक मामलों में भी पूरी सतर्कता अपेक्षित है।
 
मीन: दांपत्य जीवन बिगड़ा रहेगा। जीवनसाथी से बेवजह विवाद उत्पन्न होगा। कार्य-व्यापार में धोखा मिलेगा। आर्थिक मामलों में जोखिम उठाने से बचें। खान-पान में सावधान रहें।
 
आचार्य कमल नंदलाल
ईमेल: kamal.nandlal@gmail.com 
Edited by:Aacharya Kamal Nandlal

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You