चाणक्य नीति: हर वक्त उदारता सहीं नहीं

  • चाणक्य नीति: हर वक्त उदारता सहीं नहीं
You Are HereLatest News
Sunday, December 03, 2017-3:56 PM

आचार्य चाणक्य एक ऐसी महान विभूति थे, जिन्होंने अपनी विद्वत्ता, बुद्धिमता और क्षमता के बल पर भारतीय इतिहास की धारा को बदल दिया। मौर्य साम्राज्य के संस्थापक चाणक्य कुशल राजनीतिज्ञ, चतुर कूटनीतिज्ञ, प्रकांड अर्थशास्त्री के रूप में भी विश्वविख्‍यात हुए।


कार्यार्थिना दाक्षिण्य न कर्त्तव्यम्।


अर्थात: उदारता दिखाना मनुष्य का स्वभाव होता है लेकिन हर जगह उदारता दिखाने से कभी-कभी बड़ा भारी नुक्सान भी हो जाता है। एक राजा को शत्रु पक्ष से व्य्वहार करते समय इस बात को विशेष ध्यान रखना चाहिए। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You