चीन को उम्मीद: क्षेत्रीय शांति में योगदान करेगा नया चाबहार पोर्ट

  • चीन को उम्मीद: क्षेत्रीय शांति में योगदान करेगा नया चाबहार पोर्ट
You Are HereLatest News
Monday, December 04, 2017-8:58 PM

बीजिंग: चीन ने उम्मीद जताई कि ईरान में नए रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण चाबहार बंदरगाह की शुरुआत से क्षेत्रीय शांति व स्थिरता को बल मिलेगा। चाबहार परियोजना की शुरुआत पर चीन की प्रतिक्रिया मांगे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने सीधे तौर पर टिप्पणी से इनकार किया। उन्होंने कहा, ‘जहां तक चाबहार बंदरगाह का सवाल है, मैं आपको एक सैद्धांतिक जवाब देना चाहूंगा। हम क्षेत्रीय देशों के बीच दोस्ताना रिश्तों के विकास का स्वागत करते हैं।’ प्रवक्ता ने कहा, ‘हमें उम्मीद है कि संर्दिभत सहयोग क्षेत्रीय शांति बनाए रखने में अनुकूल होगा तथा क्षेत्रीय स्थिरता व संपन्नता को बढ़ावा देगा।’

उल्लेखनीय है कि ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने देश के दक्षिणी तट पर स्थित रणनीतिक महत्व के चाबहार बंदरगाह पर नव निर्मित विस्तार क्षेत्र का रविवार को उद्घाटन किया। ओमान की खाड़ी के इस बंदरगाह की मदद से भारत अब पाकिस्तान भूभाग में जाये बिना ईरान और अफगानिस्तान के साथ एक आसान और नया व्यापारिक मार्ग अपना सकता है।

ईरान के दक्षिणी तट पर सिस्तान-बलूचिस्तान प्रांत तट का यह बंदरगाह भारत के पश्चिमी तट से नजदीक है और आसानी से संपर्क के योग्य है। इसे पाकिस्तान में चीनी निवेश से बन रहे ग्वादर बंदरगाह का जवाब माना जा रहा है। पाकिस्तान का ग्वादर बंदरगाह चाबहार से महज 80 किलोमीटर पश्चिम में है। 
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You