ग्लोबल वार्मिग रोकने के प्रयास नाकाम, खतरनाक स्तर पर बढ़ी कार्बन की मात्रा

  • ग्लोबल वार्मिग रोकने के प्रयास नाकाम,  खतरनाक स्तर पर बढ़ी कार्बन की मात्रा
You Are HereLatest News
Tuesday, November 14, 2017-4:11 PM

बॉनः संयुक्त राष्ट्र में जलवायु परिवर्तन को लेकर हुई  बैठक में कहा गया है कि 2017 में वैश्विक स्तर पर कार्बन की मात्रा में 2 फीसदी बढ़ोतरी हो रही है। 41 अरब टन कार्बन इस साल उत्सर्जित हुई है। लोगों की जीवन प्रणाली के चलते कार्बन की मात्रा अतिरिक्त खतरनाक स्तर पर देखी जा रही है। ग्लोबल वार्मिग को 3.6 फारेनहाइट तक रोकने में प्रयास नाकाम हुए हैं।

उल्लेखनीय है कि 2015 में 196 देशों ने पेरिस समझौते पर दस्तखत किए थे। वार्ता में इस बात पर चिंता जताई गई कि तेल, गैस व कोयले के जलने से ग्लोबल वार्मिंग बढ़ रही है। फ्यूचर अर्थ के निदेशक व अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के जलवायु परिवर्तन पर नीतिगत सलाहकार रहे एमी ल्यूर्स का कहना है कि तीन साल बाद कार्बन का स्तर बढ़ रहा है। यह मानवता के लिए खतरे की घंटी है। उनका कहना है कि कार्बन का स्तर विश्व के हर कोने से बढ़ रहा है।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You