Subscribe Now!

पनामा पेपर्स केस: नवाज शरीफ की मुश्किलें और बढ़ीं

  • पनामा पेपर्स केस: नवाज शरीफ की मुश्किलें और बढ़ीं
You Are HereInternational
Tuesday, January 23, 2018-3:40 PM

इस्लामाबादः पनामा पेपर्स मामले में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की कानूनी मुश्किलें और बढ़ गईं हैं। रिश्वत-रोधी एजैंसी एनएबी ने सोमवार को उनके व उनके परिजनों की लंदन में संपत्तियों को लेकर एक पूरक मामला दर्ज किया। पनामा घोटाले की जांच के दौरान इन संपत्तियों का पता चला था।

राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) ने इस्लामाबाद में जवाबदेही कोर्ट के रजिस्ट्रार में मामला दर्ज कराया। जवाबदेही कोर्ट कथित भ्रष्टाचार के लिए पहले से ही शरीफ और उनके परिजनों- दो बेटों हुसैन और हसन, बेटी मरियम और दामाद मुहम्मद सफदर के खिलाफ 3न मामलों में सुनवाई कर रही है। ये मामले पनामा पेपर्स स्कैंडल से संबंधित हैं। इस वजह से ही 68 वर्षीय नवाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद की कुर्सी गंवानी पड़ी थी।

सूत्रों ने कहा है कि नया मामला एनएबी द्वारा इकट्ठा किए गए ताजा सुबूतों पर आधारित है। एनएबी ने 7 गवाहों के नाम भी दिए हैं। इनमें 2 ब्रिटेन निवासी हैं। जो लोग अदालत में गवाही देंगे, उनमें फोरेंसिक विशेषज्ञ रॉबर्ट रेडली और वाजिद जिया का एक रिश्तेदार भी है। वाजिद जिया शरीफ के खिलाफ मामले की जांच कर रहे संयुक्त जांच दल (जेआइटी) के प्रमुख हैं। शरीफ को प्रधानमंत्री पद के अयोग्य ठहराए जाने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। नए मामले में शरीफ, मरियम, हसन, हुसैन और सफदर के नाम हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You