ईराक-ईरान में भूकंप से तबाही की भयावह तस्वीरें आईं सामने

You Are HereLatest News
Monday, November 13, 2017-12:53 PM

सुलेमानियाः इराक-ईरान बॉर्डर पर रविवार रात करीब 1 बजे (भारतीय समय) 7.3 तीव्रता से आए भूकंप से  20 से ज्यादा गांव तबाह हो गए। इस त्रासदी में 207 लोगों की जान चली गई वहीं सैंकड़ों लोग घायल हो गए। मलबा हटाने पर मरने वालों की तादाद बढ़ सकती है। 

PunjabKesariभूकंप के बाद ईराक और ईरान के बॉर्डर इलाकों से तबाही की तस्वीरें सामने आई हैं। सबसे ज्यादा नुकसान ईरान के शहरों में देखने को मिला है।  टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, ईरान के सरपोल ए-जहाब कस्बे में अकेले करीब 100 से ज्यादा लोग जख्मी हुए हैं।
PunjabKesari
यहां का मुख्य हॉस्पिटल भी धराशायी हो गया है। ऐसे में घायलों के इलाज में दिक्कतें आ रही हैं। ईराक ऑफिशियल्स के मुताबिक लैंडस्लाइड के बाद कई हाईवे बंद हो चुके हैं। रेड क्रॉस की 30 टीमें रेस्क्यू में जुटी हैं। रात से ही मलबे में दबे लोगों को निकालने का काम जारी है। 

PunjabKesari
 ईरान और ईराक के कई शहरों में इलेक्ट्रिसिटी ठप्प है। दोनों देशों के मिलाकर करीब 10 हजार लोग ऑफ्टर शॉक के डर से ठंड में सड़कों पर रह रहे हैं। इस भूकंप के चलते ईरान के कई प्रॉविन्स में नुकसान हुआ है। केरमन्शाह के डिप्टी गर्वनर मोजताबा निक्करडार ने मौत के आंकड़े बढ़ने की संभावना जताई है। 

PunjabKesariईरान के इंटीरियर मिनिस्टर अब्दुलरेजा रहमानी फजली ने स्टेट टीवी को बताया कि भूकंप के चलते सड़कें कट गई हैं। वहीं, रात का वक्त होने के चलते हेलिकॉप्टर के जरिए प्रभावित इलाकों में रेस्क्यू मुश्किल हो गया है।

PunjabKesari
US जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक, भूकंप का केंद्र कुर्दिस्तान के हलाब्जा से 30 किलोमीटर दूर सुलेमानियाह प्रॉविन्स के पेन्जविन में था। यहां से 300 किलोमीटर दूर बगदाद, कुवैत और कतर में इसका असर देखा गया।

PunjabKesari

PunjabKesari
 
 
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You